मुख्य मेनू खोलें

बदलाव

आकार में कोई परिवर्तन नहीं ,  1 वर्ष पहले
 
== संस्कृति ==
दरभंगा प्रदेश [[मिथिला]] संस्कृति का अंग एवं केंद्र विंदु रहा है।<ref>https://books.google.co.in/books?id=syip6LKz78kC&pg=PT47&lpg=PT47&dq=%E0%A4%A6%E0%A4%B0%E0%A4%AD%E0%A4%82%E0%A4%97%E0%A4%BE+%E0%A4%AE%E0%A5%87%E0%A4%82+%E0%A4%AE%E0%A4%BF%E0%A4%A5%E0%A4%BF%E0%A4%B2%E0%A4%BE+%E0%A4%B8%E0%A4%82%E0%A4%B8%E0%A5%8D%E0%A4%95%E0%A5%83%E0%A4%A4%E0%A4%BF&source=bl&ots=dQmheTw0q8&sig=z40OxzujYKzfAFIAepW0uBsAlnE&hl=en&sa=X&ei=TDyJVLXnG8OHuAStw4LwDw&ved=0CEoQ6AEwBg#v=onepage&q=%E0%A4%A6%E0%A4%B0%E0%A4%AD%E0%A4%82%E0%A4%97%E0%A4%BE%20%E0%A4%AE%E0%A5%87%E0%A4%82%20%E0%A4%AE%E0%A4%BF%E0%A4%A5%E0%A4%BF%E0%A4%B2%E0%A4%BE%20%E0%A4%B8%E0%A4%82%E0%A4%B8%E0%A5%8D%E0%A4%95%E0%A5%83%E0%A4%A4%E0%A4%BF&f=false</ref> [[रामायण]] काल से ही यह राजा जनक तथा उत्तरवर्ती हिंदू राजाओं का शासन प्रदेश रहा है। मध्यकाल में इस क्षेत्र पर मुसलमान शासकों का कब्जा होने पर भी यह हिंदू क्षत्रपों के अधीन रहा और अपनी खास पहचान बनाए रखने में सक्षम रहा। पहले से मुस्लिम बहुल दरभंगा शहर में 19वीं सदी के आरंभ में ब्राह्मण राजा द्वारा अपनी राजधानी स्थानान्तरित किए जाने के बाद हिंदू यहाँ बसने लगे औ‍र शहर में मिली-जुली संस्कृति पनपी। यद्यपि दरभंगा हिंदू बहुल है लेकिन मुसलमान कुल संख्या का ३६२५% है।<ref>[http://en.wikipedia.org/wiki/Darbhanga#History] अंग्रेजी विकिपीडिया पर दरभंगा</ref> मिथिला पेंटिंग, ध्रुपद गायन की गया शैली और संस्कृत के विद्वानों ने इस क्षेत्र को दुनिया भर में खास पहचान दी है। प्रसिद्ध लोक कलाओं में सुजनी (कपड़े की कई तहों पर रंगीन धागों से डिजाईन बनाना), सिक्की (खर एवं घास से बनाई गई कलात्मक डिजाईन वाली उपयोगी वस्तु) तथा लकड़ी पर नक्काशी का काम शामिल है। [[सामा चकेवा]] एवं [[झिझिया]] दरभंगा का लोक नृत्य है। यहाँ के लोगों के खान-पान एवं विद्या प्रेम पर मैथिली में प्रचलित एक कहावत दरभंगा की संस्कृति को अच्छी तरह बयान करता है:<br />
''पग-पग पोखर, पान मखान''<br />
''सरस बोल, मुस्की मुस्कान''<br />
1

सम्पादन