"लॉर्ड वोल्डेमॉर्ट" के अवतरणों में अंतर

विस्तार
(विस्तार)
'''लॉर्ड वोल्डेमॉर्ट''' ({{lang-en|Lord Voldemort}}) [[जे॰ के॰ रोलिंग]] द्वारा रचित [[हैरी पॉटर (उपन्यास)]] शृंखला का एक काल्पनिक चरित्र है। वो इस उपन्यास के मुख्य किरदार [[हैरी पॉटर]] का मुख्य प्रतिद्वन्दी व खलनायक है। वोल्डेमॉर्ट का असली नाम '''टॉम (मार्वोलो) रिडल''' है। उसका प्रथम अवतरण ''[[हैरी पॉटर और पारस पत्थर]]'' में होता है। वह तृतीय भाग ''[[हैरी पॉटर और अज़्काबान का क़ैदी]]'' को छोड़कर बाकी हर भाग में है। तृतीय भाग में केवल उसका जिक्र मिलता है।
 
वोल्डेमॉर्ट तन्त्र-मन्त्र और जादू-टोने के विद्यालय [[हॉग्वार्ट्स]] से शिक्षित है। उसका पिता [[टॉम रिडल सीनियर]] सामान्य [[मगलू]] (ग़ैर-जादूगर) था। उसकी माँ '''मेरोपी रिडल''' (जन्म : मेरोपी गॉण्ट) [[सलाज़ार स्लिदरिन]], से निकले [[शुद्ध रक्त]] वाले ख़ानदान से थी,<ref>{{HPref|book=2}}{{page needed|date=January 2011}}; {{HPref|book=6}}{{Page needed|date=July 2011}}</ref> जो कि [[हॉग्वार्ट्स|हॉग्वार्ट्स तन्त्र-मन्त्र और जादू-टोना विद्यालय]] के चार संस्थापकों में एक थे। बालक टॉम रिडल अनाथालय में जन्मा और पला-बढ़ा। जल्द ही उसे मगलू इंसानों और अशुद्ध रक्त (मगलुओं की पैदाइश) वाले जादूगरों से सख़्त नफ़रत होते लगी और साथ ही साथ काले जादू में उसका उत्साह बढ़ता गया। धीरे धीरे उसने अपनी तरह सोचने वाले बहुत से जादूगर इकठ्ठे किये और [[प्राण भक्षी]] नाम का गिरोह बनाया और उनका सरदार बन गया तथा लॉर्ड वोल्डेमॉर्ट के नाम से जाना गया। जो भी उसका विरोध करता था, वो और उसका गिरोह प्राण भक्षी उसका कत्ल कर देते थे। उसने हैरी पॉटर के माता पिता दोनो का ही [[अवादामृत्यु केदाव्रादंशम]] अभिशाप से कत्ल कर दिया। एक वर्षीय हैरी पर भी उसने यही अभिशाप चलाया। पर हैरी के मरने के बजाय अभिशाप पलट कर ख़ुद वोल्डेमॉर्ट को ही लग गया। हैरी बच निकला, पर वोल्डेमॉर्ट आधा-ज़िदा प्रेतात्मा बन कर रह गया। बाद में वोल्डेमॉर्ट जिस्मो-जान समेत वापस आ जाता है। उसके पास एक पालतू सर्पिनी [[नगिनी]] थी और वोल्डेमॉर्ट ख़ुद सर्पभाषा जानता है।
 
==चरित्र का विकास==
==उपस्थिति==
===''हैरी पॉटर और पारस पत्थर''===
वोल्डेमॉर्ट अपना पदार्पण ''[[हैरी पॉटर और पारस पत्थर]]'' से करता है। इस उपन्यास में रोलिंग ने उसे अनिष्ट देव के रूप में प्रस्तुत किया है जिसने हैरी के माता-पिता [[जेम्स पॉटर]] और [[लिली पॉटर]] की हत्या की है। परन्तु माँ के हैरी के प्रति प्यार और बलिदान की इछाश्क्ति के कारण वोल्डेमॉर्ट के मृत्यु श्राप अवादामृत्यु केदाव्रादंशम से शिशु हैरी बच जाता है और परिणामस्वरूप वोल्डेमॉर्ट शरीर खो देता है तथा हैरी के माथे पर निशान बन जाता है। इस भाग में वोल्डेमॉर्ट पारस पत्थर प्राप्त करके अपनी खोयी हुये शरीर को फिर से प्राप्त करने का असफल प्रयास करता है। इस उदेश्य को पूरा करने के लिये वह प्रोफ़ेसर [[क्विरल]] की मदद लेता है तथा उसके सर के पीछे आ जाता है। फिर भी हैरी अंत में उसे पारस पत्थर चुराने से रोक देता है।
 
===''हैरी पॉटर और रहस्यमयी तहखाना''===
रोलिंग ने इस भाग में वोल्डेमॉर्ट की पुराने जीवन पर एक अलग अध्याय भी दिया है। इस अध्याय में वह खुलासा करती हैं कि वोल्डेमॉर्ट जादूगरनी [[मेरोपी गॉण्ट]] तथा मगलू [[टॉम रिडल]] का पुत्र था। रिडल मेरोपी को अपने पुत्र के जन्म से पहले ही छोड़ देते है और उसके जन्म के तुरन्त बाद माँ मेरोपी की मौत हो जाती है, इस कारण वह अनाथालय में रहता है।<ref name="{{HP6}}ch10">{{HPref|book=6|chapter=10}}</ref> अनाथालय में उसकी मुलाकात डम्बल्डोर से होती है, जो कि उसे बताते है कि वह एक जादूगर है और उसे हॉग्वार्ट्स में दाखिला करवाते हैं।<ref name="{{HP6}}ch13">{{HPref|book=7|chapter=13}}</ref> रिडल एक असाधारण प्रतिभा वाला बालक था, परन्तु असलियत में वह एक [[मनोरोगी]] था और उसे दूसरों को नुकसान पहुचाने में मजा आती थी। उसने अपने पिता व बुजुर्गो की हत्या इस कारण से कर दी कि बचपन में उन लोगो ने उसे अनाथ छोड़ दिया था।<ref name="{{HP6}}ch17">{{HPref|book=6|chapter=17}}</ref> यह पुस्तक उसे मगलुओं से घृणा करने वाला, उसका होर्क्रक्स के प्रति जूनून तथा उसके अमर होने की कामना को भी परिभाषित करती है।<ref name="{{HP6}}ch23">{{HPref|book=6|chapter=23}}</ref>
 
पुस्तक के मुख्य भाग में वोल्डेमॉर्ट की हॉग्वार्ट्स पर आक्रमण के अगले कदम का वर्णन है। इसलिये वह डम्बल्डोर की हत्या करने की योजना बनाता है। इसके लिये वह [[ड्रैकु मेल्फॉय]] को सुपारी देता है। ड्रैकु प्राण भक्षियों को हॉग्वार्ट्स विद्यालय का सुरक्षा कवच तोड़कर अन्दर प्रवेश करने की व्यवस्था करता है।<ref name="{{HP6}}ch23">{{HPref|book=6|chapter=23}}</ref><ref name="{{HP6}}ch27">{{HPref|book=6|chapter=27}}</ref> ड्रैकु के हत्या न कर पाने पर विद्यालय के प्रोफेसर [[सेवरससेवेरस स्नेप]] ही डम्बल्डोर की हत्या कर देते है।<ref name={{HP6}}ch27/>
 
===''हैरी पॉटर और मौत के तोहफ़े''===
सातवें संस्करण ''[[हैरी पॉटर और मौत के तोहफ़े]]'' में वोल्डेमॉर्ट परम शक्तियों को प्राप्त करने का और अधिक प्रयास करता है। वह जादू मंत्रालय को भंग कर देता है तथा स्वयं को [[पियस थिकनेस]] के साथ बदल लेता है, जो कि सम्मोहित श्राप के प्रभाव में था।<ref name="DH121315">{{HPref|book=7}}{{page needed|date=January 2011}}</ref> एक अधिनायकवादी राज्य स्थापित करने के लिये वह मगलू जादूगरों के साथ भेदभाव करता है और उन्हें ''शुद्ध रक्त'' वाले जादूगरों से जादू की कला चुराने के आरोप गिरफ्तार करने लगता है।<ref name="DH121315"/> वह अपनी वर्तमान छड़ी से हैरी को नहीं मार सकता था क्योंकि उसकी और हैरी की छड़ी के अक्ष समान थे इसलिये [[ल्यूसियस मेल्फॉय]] द्वारा ली गयी छड़ी से हैरी को मारने में असफल होने के बाद वह दुनिया की सबसे शक्तिशाली छड़ी [[एल्डर छड़ी]] की खोज में जुट जाता है जिससे वह हैरी की छड़ी से पार पा सके और अजेय बन सके। वह इस कार्य को पूरा करने के लिये ग्रेगोरोविच छड़ी की दुकान पर जाता है और छड़ी बनाने वाले की हत्या कर देता है।<ref name="DH14">{{HPref|book=7|chapter=14}}</ref> वह अपनी यात्रा के दौरान [[नॉर्मनगार्ड]] जेल भी जाता है जहाँ पर कैद दुनिया के सबसे दुष्ट जादूगर ग्रिन्देल्वाल्ड को वह मार डालता है। अंत में उसे एल्डर छड़ी डम्बल्डोर की कब्र में मिलती है जहाँ से वह उसे चुरा लेता है।
 
बाद में उसे पता चलता है कि हैरी और उसके मित्र एक के बाद एक होर्क्रक्स नष्ट करते जा रहे हैं। हैरी जब हॉग्वार्ट्स में एक और होर्क्रक्स रेवेनक्लाॅ के खोये मुकुट को खोजने आता है तब वोल्डेमॉर्ट हॉग्वार्ट्स के कर्मचारियों को यह प्रस्ताव वह हैरी को उसे सौंप दे तो वह पूरे विद्यालय को नुकसान नहीं पहुँचायेगा परन्तु ऐसा न होने पर वह हॉग्वार्ट्स पर सेना सहित धावा बोल देता है।<ref name="DH31">{{HPref|book=7|chapter=31}}</ref> इस दौरान वह स्नेप को एल्डर छड़ी का मालिक समझकर उसकी हत्या कर देता है क्योंकि स्नेप ने ही एल्डर छड़ी के पूर्व मालिक डम्बल्डोर को मारा था।<ref name="DH32">{{HPref|book=7|chapter=32}}</ref> फिर वह एक हैरी को सौपने के लिये एक घंटे का युद्धविराम करता है।<ref name="DH34">{{HPref|book=7|chapter=34}}</ref> हैरी स्वेच्छा से वोल्डेमॉर्ट के पास जंगल में जाता है जहाँ वोल्डेमॉर्ट एल्डर छड़ी से उस पर प्रहार करता है।<ref name="DH34"/> क्योंकि वोल्डेमॉर्ट हैरी के ही शरीर से पुनर्जीवित हुआ था, इसलिये हैरी का रक्त उसकी धमनियों में दौड़ रहा था इसलिये हैरी की माँ की सुरक्षा का भाग उसके शरीर में भी आ गया था। बजाय इसके वह अपनी ही आत्मा का एक भाग (होर्क्रक्स) नष्ट कर देता है। वह [[रूबियस हैग्रिड]] को हैरी की अजीवित प्रतीत होते शरीर को वापस महल में उठा कर लाने के लिये विवश करता है, इस दौरान उसका अंतिम होर्क्रक्स नगिनी भी [[नेविल लॉन्गबॉटम]] द्वारा मार दी जाती है। यहाँ पर उसका युद्ध [[मिनेर्वा मैकगोनेगल]], [[किंग्सले शैकलबॉट]] तथा [[हॉरिस स्लगहॉर्न]] से एक साथ होता है। फिर हैरी होश में आता है तथा वोल्डेमॉर्ट को बताता है कि ड्रैकु एल्डर छड़ी का असली मालिक है क्योंकि उसने छड़ी के पूर्व मालिक डम्बल्डोर को निशस्त्र किया था; इसके बाद हैरी ने ड्रैकु को निशस्त्र कर वह छड़ी जीत ली, इस कारण हैरी एल्डर छड़ी मालिक हुआ। हैरी की बात न मानते हुये वोल्डेमॉर्ट एल्डर छड़ी से मृत्यु दंशम श्राप का प्रयोग करता है परन्तु एल्डर छड़ी अपने मालिक को नहीं मारती थी; इस कारण से यह मन्त्र उसी पर वापस आ जाता है और वोल्डेमॉर्ट, जिसके सारे होर्क्रक्स पहले ही नष्ट हो चुके थे, अंततः मर जाता है।<ref name="DH36">{{HPref|book=7|chapter=36}}</ref>
 
 
==सन्दर्भ==
9,286

सम्पादन