"मदीनन सूरा" के अवतरणों में अंतर

43 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
छो
HotCat द्वारा श्रेणी:क़ुरआन जोड़ी
(नया पृष्ठ: '''मदीनन सूरतें''' क़ुरआन की सब से बाद की वो 24 सूरतें हैं जो...)
 
छो (HotCat द्वारा श्रेणी:क़ुरआन जोड़ी)
'''मदीनन सूरतें''' [[क़ुरआन]] की सब से बाद की वो 24 [[सूरा|सूरतें]] हैं जो ईस्लामी परंपरा के अनुसार, [[मदीना]] में [[मुहम्मद|मुहम्मद(सल्ल)]] और उनके [[सहाबा|साथियों]] के [[मक्का (शहर)|मक्का]] से [[हिजरत]] (देश त्याग) के बाद में प्रकट (प्रकाशित) हुई थीं। ये सूरतें ईश्वर (अल्लाह) नें अवतरित की, जब [[मुसलमान|मुस्लिम समुदाय]] मक्का में पहले वाली अल्पसंख्यक स्थिति की तुलना में तादाद में ज़्यादा और अधिक विकसित था।
 
[[श्रेणी:क़ुरआन]]