"मैहर" के अवतरणों में अंतर

322 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
(ऑटोमेटिक वर्तनी सु, replaced: →)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
 
यहाँ प्रतिदिन हजारों दर्शनार्थी आते हैं किंतु वर्ष में दोनों [[नवरात्रि|नवरात्रों]] में यहां मेला लगता है जिसमें लाखों यात्री मैहर आते हैं। मां शारदा के बगल में प्रतिष्ठापित नरसिंहदेव जी की पाषाण मूर्ति आज से लगभग 1500 वर्ष पूर्व की है।
 
देवी शारदा का यह प्रसिद्ध शक्तिपीठ स्थल देश के लाखों भक्तों के आस्था का केंद्र है माता का यह मंदिर धार्मिक तथा ऐतिहासिक है
 
== उत्पत्ति ==
बेनामी उपयोगकर्ता