"मुक्तछन्द": अवतरणों में अंतर

19 बैट्स् नीकाले गए ,  4 वर्ष पहले
छो
Bot: Migrating 1 interwiki links, now provided by Wikidata on d:Q141126
No edit summary
छो (Bot: Migrating 1 interwiki links, now provided by Wikidata on d:Q141126)
'''मुक्तछन्द''' (Free verse या vers libre) [[कविता]] का वह रूप है जो किसी [[छन्द]]विशेष के अनुसार नहीं रची जाती न ही तुकान्त होती है। मुक्तछन्द की कविता सहज भाषण जैसी प्रतीत होती है। [[हिन्दी]] में मुक्तछन्द की परम्परा [[सूर्यकान्त त्रिपाठी 'निराला']] ने आरम्भ की।
 
[[en:Free verse]]