"कब्ज" के अवतरणों में अंतर

168 बैट्स् नीकाले गए ,  2 वर्ष पहले
छो
103.211.190.86 (Talk) के संपादनों को हटाकर आर्यावर्त के आखिरी अवतरण...
(More about constipation)
छो (103.211.190.86 (Talk) के संपादनों को हटाकर आर्यावर्त के आखिरी अवतरण...)
टैग: प्रत्यापन्न
MeshID = D003248 |
}}
'''[http://www.raambaanilaj.com/2017/07/blog-post_13.html कब्ज]''' [[पाचन तंत्र]] की उस स्थिति को कहते हैं जिसमें कोई व्यक्ति (या जानवर) का [[मल]] बहुत कड़ा हो जाता है तथा मलत्याग में कठिनाई होती है। कब्ज अमाशय की स्वाभाविक परिवर्तन की वह अवस्था है, जिसमें मल निष्कासन की मात्रा कम हो जाती है, मल कड़ा हो जाता है, उसकी आवृति घट जाती है या मल निष्कासन के समय अत्यधिक बल का प्रयोग करना पड़ता है। सामान्य आवृति और अमाशय की गति व्यक्ति विशेष पर निर्भर करती है। (एक सप्ताह में 3 से 12 बार मल निष्कासन की प्रक्रिया सामान्य मानी जाती है। [https://kaise.hindighareluupay.in/qabz-kabj-ka-51-ramban-ilaj-ayurvedic-in-hindi/ '''कब्ज का इलाज'''] करने के लिए कई नुस्खे व उपाय यहां जोड़ें गए हैं।
 
पेट में शुष्क मल का जमा होना ही कब्ज है। यदि कब्ज का शीघ्र ही उपचार नहीं किया जाये तो शरीर में अनेक विकार उत्पन्न हो जाते हैं। कब्जियत का मतलब ही प्रतिदिन पेट साफ न होने से है। एक स्वस्थ व्यक्ति को दिन में दो बार यानी सुबह और शाम को तो मल त्याग के लिये जाना ही चाहिये। दो बार नहीं तो कम से कम एक बार तो जाना आवश्यक है। नित्य कम से कम सुबह मल त्याग न कर पाना अस्वस्थता की निशानी है।<ref>[http://www.beautyepic.com/prunes-for-constipation/ कब्‍ज दूर हो जाती प्रॉन्‍स से]</ref>
* भोजन करते वक्त ध्यान भोजन को चबाने पर न होकर कहीं और होना।
 
== [http://www.raambaanilaj.com/2017/07/blog-post_13.html लक्षण] ==
* सासों की बदबू
* लेपित जीब
* अन्य सभी [https://kaise.hindighareluupay.in/kabz-qabz-ke-liye-nuskhe-for-constipation-in-hindi/ '''आयुर्वेदिक कब्ज के घरेलु नुस्खे'''] यहां भी प्राप्त कर सकते हैं। यह बहुत ही असरकारी व उपयोगी हैं।
 
== [http://www.raambaanilaj.com/2017/07/blog-post_13.html अन्य उपाय] ==
 
१) इसबगोल की की भूसी कब्ज में परम हितकारी है। दूध या पानी के साथ २-३ चम्मच इसबगोल की भूसी रात को सोते वक्त लेना फ़ायदे मंद है। दस्त खुलासा होने लगता है।यह एक कुदरती रेशा है और आंतों की सक्रियता बढाता है।