मुख्य मेनू खोलें

बदलाव

39 बैट्स् नीकाले गए ,  1 वर्ष पहले
छो
बॉट: आंशिक वर्तनी सुधार।
}}
 
'''दक्षिण कोरिया''' ([[कोरियाई भाषा|कोरियाई]]: 대한민국 ([[देहान् मिन्गुक]]), 大韩民国 ([[हञ्जाहंजा]])), [[पूर्वी एशिया]] में स्थित एक देश है जो [[कोरियाई प्रायद्वीप]] के दक्षिणी अर्धभाग को घेरे हुए है। 'शान्त सुबह की भूमि' के रूप में ख्यात इस देश के पश्चिम में [[जनवादी गणराज्य चीन|चीन]], पूर्व में [[जापान]] और उत्तर में [[उत्तर कोरिया]] स्थित है। देश की राजधानी [[सियोल]] दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा महानगरीय क्षेत्र और एक प्रमुख वैश्विक नगर है। यहां की आधिकारिक भाषा [[कोरियाई भाषा|कोरियाई]] है जो [[हंगुल]] और [[हञ्जाहंजा]] दोनो लिपियों में लिखी जाती है। राष्ट्रीय मुद्रा [[दक्षिण कोरियाई वॉन|वॉन]] है।
 
उत्तर कोरिया, इस देश की सीमा से लगता एकमात्र देश है, जिसकी दक्षिण कोरिया के साथ २३८ किलिमीटर लम्बी सीमा है। दोनो कोरियाओं की सीमा विश्व की सबसे अधिक सैन्य जमावड़े वाली सीमा है। साथ ही दोनों देशों के बीच एक असैन्य क्षेत्र भी है।
 
== नामोत्पत्ति ==
दक्षिण कोरियाई अपने देश को हांगुक कहते हैं, जिसका शाब्दिक अर्थ है "हानों की भूमि" (हंगुल: 한국, हाञ्जाहांजा: 韩国)। हान एक प्रागएतिहासिक जनजाति का नाम है जो कोरियाई प्रायद्वीप पर रहते थे। ये हान, [[हान चीनी|हान चीनियों]] से अलग हैं। देश का एक उपनाम है "जोसिओन" जिसका अर्थ है, शान्त सुबह की भूमि।
 
दाइहान मिन्गुक देश का आधिकारिक नाम है, जिसका अर्थ है कोरिया गणराज्य या शाब्दिक अर्थ है महान हान गणराज्य (대한민국; 大韩民国)।
[[२००८]] की स्थिति तक [[दक्षिण कोरिया की अर्थव्यवस्था]] क्रय शक्ति के आधार पर विश्व की 5वीं सबसे बड़ी और संज्ञात्मक आधार पर चौथी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। [[प्रति व्यक्ति आय]] [[१९६३]] में १०० [[अमेरिकी डॉलर|$]] से बढ़कर [[२००५]] में २०,००० [[अमेरिकी डॉलर|$]] हो गई।
 
पिछले साठ वर्षों के दौरान दक्षिण कोरिया की अर्थव्यवस्था के प्रमुख क्षेत्रों में चमत्कारी परिवर्तन आया है। दशक १९४० के दौरान देश की अर्थव्यवस्था मुख्यतः कृषि-आधारित और कुछ हलके उद्योगों पर आधारित थी। अगले कुछ दशकों के दौरान अर्थव्यवस्था में हल्के उद्योगों और उपभोक्ता उत्पादों पर बल दिया गया और दशक १९७० और १९८० के दौरान भारी उद्योगों पर बल दिया गया। प्रथम ३० वर्षों के दौरान राष्ट्रपति पार्क चुंग ही ने १९६२ से [[पञ्चपंच वर्षीय योजनाएं (दक्षिण कोरिया)|पञ्चपंच वर्षीय योजनाएं]] आरम्भ कीं, जिसके परिणामस्वरूप अर्थव्यवस्था बहुत तेज़ी से आगे बढ़ी और इसका स्वरूप भी बदला। दशक १९६० से १९९० के मध्य हुई अभूतपूर्व उन्नति के कारण दक्षिण कोरिया को [[ताइवान]], [[सिंगापुर]] और [[हांग कांग]] के साथ-साथ एक एशियाई चीता माना जाता है।
 
१९६० के बाद से हुई इस उन्नति में दशक १९८० के अन्तिम वर्षों में उतार आने लगा। उस समय तक आर्थिक वृद्धि दर घटकर ६.५% रह गई, जबकि वेतन, जनसंख्या और मुद्रास्फीति में वृद्धि हुई। अन्य विकसित देशों के समान ही दशक १९९० में अर्थव्यवस्था में सेवा क्षेत्र का योगदान बढ़ा और यह क्षेत्र प्रधान बन गया और वर्तमान में जीडीपी में दो-तिहाई योगदान देता है।<ref>[http://www.economist.com/countries/SouthKorea/profile.cfm?folder=Profile-Economic%20Structure ''Country Studies: South Korea''] {{अंग्रेज़ी}}</ref>
[[कोरियाई भाषा]] यहाँ की आधिकारिक भाषा है जो अल्टिक भाषा परिवार से सम्बन्धित है। कोरियाई लेखन लिपि, हांगुल, का आविष्कार [[१४४६]] में राजा सेजोंग के काल में हुआ था जिसका उद्देश्य अपनी प्रजा में शिक्षा का प्रसार करना था। हुन्मिन जिओंगिउम (훈민정음, 训 民 正音) की शाही उद्घोषणा में चीनी वर्णों को एक आम व्यक्ति द्वारा सीखना बहुत कठिन माना जाता था, जिसका शाब्दिक अर्थ है "ध्वनियां जो लोगों को सिखाने के लिए उपयुक्त हैं"। कोरियाई लिपि, चीनी लेखन लिपि से भिन्न है क्योंकि यह ध्वन्यात्मक कोरियाई से भिन्न है।
 
बहुत से मौलिक शब्द कोरियाई में [[चीनी भाषा]] से लिए गए और वृद्ध कोरियाई अभी भी हाञ्जाहांजा में लिखते हैं, जो चीनी चित्रलिपि और जापानी काञ्जीकांजी के समान है, क्योंकि [[जापान का साम्राज्य|जापानी शासनकाल]] के दौरान कोरियाई में बोलना और लिखना प्रतिबन्धित था।
 
[[२०००]] में सरकार ने [[रोमनीकरण]] प्रणाली लाने का निर्णय लिया। [[अंग्रेज़ी]] अधिकान्श प्राथमिक विद्यालयों में द्वितीय भाषा के रूप में पढ़ाई जाती है। इसके अतितिक्त माध्यमिक विद्यालयों में दो वर्षों तक [[चीनी भाषा|चीनी]], [[जापानी भाषा|जापानी]], [[फ़्रान्सीसी भाषा|फ़्रान्सीसी]], [[जर्मन भाषा|जर्मन]], या [[स्पेनी भाषा|स्पेनी]] भाषाएं भी पढ़ाई जाती हैं।
 
=== पाक शैली ===
कोरियाई पाक शैली, हांगुक योरि, या हान्सिक, का विकास सदियों के सामाजिक और राजनैतिक परिवर्तनों के दौरान हुआ है। सामग्री और व्यञ्जनव्यंजन विभिन्न प्रान्तों में भिन्न हैं। ऐसे बहुत से क्षेत्रीय रूप से महत्वपूर्ण व्यञ्जनव्यंजन हैं जिन्का देश के विभिन्न भागों में प्रसार हुआ है। कोरियाई शाही दरबार ने एक समय सारे क्षेत्रीय विशिष्ट व्यञ्जनोंव्यंजनों को शाही परिवार के लिए एकत्रित किया था। शाही परिवार और जनसाधारण कोरियाईयों द्वारा खाया जाने वाला भोजन एक विशिष्ट सांस्कृतिक शिष्टाचार द्वारा विनियमित रहा है।
 
कोरियाई खानपान मुख्य रूप से [[चावल]], [[नूडल]], [[तोफ़ू]], [[सब्ज़ी|सब्ज़ियों]], [[मछली]] और [[मांस]] पर आधारित रहा है। पारम्परिक कोरियाई भोजन बहुत से सहायक भोजनों (''साइड डिश''), के लिए जाना जाता है, जैसे बञ्चनबंचन (반찬) जो भाप मे पकाए गए छोटे दानों वाले चावलों के साथ परोसा जाता है। प्रत्येक भोजन बहुत से बञ्चनबंचन के साथ परोसा जाता है, किम्ची, एक किण्वित और बहुधा मसालेदार सब्ज़ी वाला भिजन है जो सभी भोजों के दौरान परोसा जाता है और विख्यात कोरियाई व्यञ्जनोंव्यंजनों में से एक है।
 
== शिक्षा ==