"डी आर मेहता" के अवतरणों में अंतर

194 बैट्स् नीकाले गए ,  2 वर्ष पहले
Reverted to revision 3779561 by 2405:205:A0CF:DD98:0:0:2927:70AC (talk): Removing improperly reffed text. (ट्विंकल)
(नाम मीटिंग की है आदर्श राजेंद्र)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
(Reverted to revision 3779561 by 2405:205:A0CF:DD98:0:0:2927:70AC (talk): Removing improperly reffed text. (ट्विंकल))
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना
सामाजिक कार्य संपादन
 
डी.आर. मेहता अपने पूरे जीवन में सामाजिक क्षेत्र में सक्रिय रहे है। उन्होंने 1 9 75 में जयपुर में भगवान महावीर विकलांग सहयायत समिति (बीएमवीएसएस) की स्थापना की और अब यह पूर्णकालिक मानद स्वयंसेवक है। उनके नेतृत्व में, बीएमवीएसएस दुनिया में विकलांग लोगों के लिए सबसे बड़ा संगठन के रूप में उभरा, कृत्रिम अंग / कैलीपर और अन्य सहायक उपकरण और उपकरणों को मुफ्त में प्रदान किया। अब तक 1 मिलियन से अधिक लोग इसके लाभार्थी रहे हैं। स्वावलंबी विकलांगों को बनाने के लिए प्रयास रत रहे हैं राजेंद्र ढिढारीयाhttps://hi.wikipedia.org/wiki/%E0%A4%B0%E0%A4%BE%E0%A4%9C%E0%A5%87%E0%A4%82%E0%A4%A6%E0%A5%8D%E0%A4%B0_%E0%A4%A2%E0%A4%BF%E0%A4%A2%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A5%80%E0%A4%AF%E0%A4%BEइन को आदर्श मानकर स्वावलंबी मिशन चला रहा है डीआर मेहता के नाम से भारत के कई राज्यों में
 
विज्ञान के साथ सामाजिक सेवा के संयोजन पर मेहता का ध्यान स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी और बीएमवीएसएस के बीच एक समझौता ज्ञापन हुआ, जिसके परिणामस्वरूप जयपुर घुटने नामक एक नए घुटने के संयुक्त विकास के परिणामस्वरूप। वर्ष 200 9 के लिए दुनिया के 50 सर्वश्रेष्ठ आविष्कारों में से एक के रूप में टाइम मैगज़ीन ने इसकी सराहना की। [4]
27,500

सम्पादन