"आर्यभट" के अवतरणों में अंतर

6 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
(→‎स्थानीय मान प्रणाली और शून्य: संस्कृतनिष्ठ हिन्दी का प्रयोग)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
(→‎अपरिमेय (इर्रेशनल) के रूप में पाई: संस्कृत निष्ठ हिन्दी)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
==== अपरिमेय (इर्रेशनल) के रूप में [[पाई]] ====
 
आर्यभट ने [[पाई]] (<math>\pi</math>) के सन्निकटन पर कार्य किया और शायदसंभवतः उन्हें इस बात का ज्ञान हो गया था कि पाई इर्रेशनल है। [[आर्यभटीय|आर्यभटीयम]] (गणितपाद) के दूसरे भाग वह लिखते हैं:
 
: '''चतुराधिकं शतमष्टगुणं द्वाषष्टिस्तथा सहस्त्राणाम्।'''
215

सम्पादन