"महाभारत (टीवी धारावाहिक)" के अवतरणों में अंतर

सम्पादन सारांश रहित
No edit summary
No edit summary
एपिसोड 3 - भीष्मा बढ़ी है
 
एपिसोड 4 - भीष्म प्रतिज्ञा / आईसीएचइच्छा मित्युमृत्यु वर्दान
 
एपिसोड 5 - अम्बा, अंबिका और अंबलिका का परिचय
 
एपिसोड 32 - हिडिंब वध और भीमा की शादी
 
एपिसोड 33 - बकासुर वाध
 
एपिसोड 34 - ड्रिस्टैडुम्ना और द्रौपदी जन्म और द्रौपदी स्वयंवर
 
एपिसोड 35 - अर्जुन ने द्रौपदी जीता और बाद में वह 5 पांडवों की पत्नी बन गईं
 
एपिसोड 36 - पंचल से हस्तीनापुर तक पांडव अवकाश
 
एपिसोड 37 - पांडव हस्तिनापुर पहुंचे और किंगडम विभाजित है
 
एपिसोड 38 - पांडव खांडवप्रस्थ प्राप्त करें
 
एपिसोड 39 - युधर्तिर का राजद्रोह, खंडप्रप्रस्थ इंद्रप्रस्थ बनता है
 
एपिसोड 40 - अर्जुन सुभद्रा के साथ भाग गया
 
एपिसोड 41 - अर्जुन वेड्स सुभद्रा। अर्जुन ने देवदाता कोच और गांधीव और भीम को अपना गाड़ा प्राप्त किया
 
एपिसोड 42 - जरासंध वाध, राजसूया यज्ञ्य शुरू होता है, शिशुपाल स्टोरी
 
एपिसोड 43 - राजसुया यज्ञ, शिशुपाल वाध
 
एपिसोड 44 - व्यास भविष्यवाणी युद्ध, द्रौपदी दुर्योधन में हंसते हैं
 
एपिसोड 45 - पांडव हस्तिनापुर से गैंबल जाते हैं
 
एपिसोड 46 - युधिरथिरिर सबकुछ खो देता है
 
एपिसोड 47 - द्रौपदी के वास्तारण
 
एपिसोड 48 - पांडव वापस सब कुछ प्राप्त करें
 
एपिसोड 49 - डायुट का पुनः मैच
 
एपिसोड 50 - वानवास शुरू होता है
 
एपिसोड 51 - गंधर्व कैच दुर्योधन
 
एपिसोड 52 - अर्जुन दिव्यस्त्र के लिए भगवान इंद्र और भगवान शिव की पूजा करता है और पशुपतिता प्राप्त करता है
 
एपिसोड 53 - कृष्णा की चावल के एक अनाज की कहानी, भीम घाटोतकच और हनुमान से मिलती है, अर्जुन चित्रसेन से नृत्य सीखती है
 
एपिसोड 54 - अर्जुन को उर्वशी, अभिमनियस से एक बच्चे के रूप में नपुंसकता का अभिशाप मिलता है, जयद्रथ के सिर को मुंडा किया जाता है
 
एपिसोड 55 - जहर पानी और यक्ष की कहानी, अभिमन्यु बढ़ी है
 
एपिसोड 56 - मत्स्य देश में आगाटवास
 
एपिसोड 57 - कर्ण का अभिशाप, द्रौपदी नौकरानी साइरंधरी के रूप में किचक को खारिज कर दिया
 
एपिसोड 58 - भीमा द्वारा कीचक वाध
 
एपिसोड 59 - कौरव अटैक मत्स्य देश
 
एपिसोड 60 - वियत युधि और उत्तर गुड़िया के लिए कपड़े
 
एपिसोड 61 - अभिमन्यू के विवाह और पांडव्स हस्तीनापुर को एक डॉट भेजने का फैसला करते हैं
 
एपिसोड 62 - धृतराष्ट्र सहमत नहीं है और संजय भेजता है
 
एपिसोड 63 - दुर्योधन को कृष्ण से नारायणी सेना मिलती है
 
एपिसोड 64 - कृष्णा हस्तीनापुर में शांति डॉट के रूप में जाता है
 
एपिसोड 65 - कृष्णा विराट अवतार लेता है और इंद्र कर्ण के कच्छ कुंडला लेता है
 
एपिसोड 66 - कर्ण की पहचान खुला है
 
एपिसोड 67 - विदुर प्रधान मंत्री के रूप में इस्तीफा दे देते हैं, कुंती कर्ण से मिलते हैं
 
एपिसोड 68 - संजय दिव्य द्रष्टि प्राप्त करते हैं, उल्लुक पांडवों के पास जाता है
 
एपिसोड 69 - दुर्योधन कल्यावास में शामिल होने के लिए शालिया की चाल
 
एपिसोड 70 - शिखंडी की कहानी
 
एपिसोड 71 - अर्जुन ने देवी दुर्गा, युद्ध के नियमों के नियमों की पूजा की
 
==निर्माण ==
931

सम्पादन