"बोलिविया" के अवतरणों में अंतर

9,501 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
इतिहास अनुभाग जोड़ा।
(भूगोल अनुभाग जोड़ा।)
(इतिहास अनुभाग जोड़ा।)
}}
[[चित्र:Salar_de_Uyuni,_Bolivia2.jpg|thumb|right|[[सालार दे उयुनी]]]]
[[चित्र:Bolivia Altiplano 2004.jpg|thumb|right|[[मनुएल रिवेरा-ओर्तीज]]:''Widow Of The Mines'', Potosí, बोलिविया (2004)]]
 
'''बोलीविया''' (/bəlɪviə/; स्पेनिश:बोलीविया; अंग्रेजी: Bolivia), जिसे आधिकारिक तौर पर '''बोलीविया बहुराष्ट्रीय देश''' के रूप में जाना जाता है, पश्चिमी-मध्य दक्षिण अमेरिका में स्थित एक स्थलरुद्ध देश है। इसकी राजधानी [[सोक्रे]] है जबकि सरकारी परिसर [[ला पाज]] में स्थित है। सबसे बड़ा शहर और प्रमुख आर्थिक और वित्तीय केंद्र [[सांता क्रूज़ डी ला सिएरा]] है, जो ल्लोनोस ओरिएंटलस (उष्णकटिबंधीय निचले इलाकों) पर स्थित है, जो बोलीविया के पूर्व में स्थित अधिकांश सपाट क्षेत्र है।
 
आधुनिक बोलीविया [[संयुक्त राष्ट्र]], [[आईएमएफ]], [[गुट निरपेक्ष आंदोलन|एनएएम]], [[अमेरिकी देशों का संगठन|ओएएस]], [[अमेज़ॅन सहयोग संधि संगठन|एक्टो]], बैंक ऑफ द साउथ, [[ अमेरिका के लिए बोलीवियाई गठबंधन|एएलबीए]] और [[दक्षिण अमेरिकी राष्ट्र संघ|यूएसएएन]] का प्रमुख सदस्य है। एक दशक से अधिक तक बोलीविया लैटिन अमेरिका में सबसे तेजी से आर्थिक विकास करने वाले देशों में से एक था, हालांकि यह दक्षिण अमेरिका के सबसे गरीब देशों में से एक बना हुआ है। यह एक [[विकासशील देश]] है, जिसकी [[मानव विकास सूचकांक]] में मध्यम श्रेणी है। यहाँ गरीबी का स्तर 38.6 प्रतिशत है, और यह [[लैटिन अमेरिका]] में सबसे कम अपराध दरों में से एक है। इसकी मुख्य आर्थिक गतिविधियों में कृषि, वानिकी, मछली पकड़ना, खनन, और कपड़ा, कपड़े, परिष्कृत धातुओं और परिष्कृत पेट्रोलियम जैसे विनिर्माण सामान शामिल हैं। बोलीविया खनिज, विशेष रूप से [[टिन]] में बहुत समृद्ध है।
 
==इतिहास==
[[File:Map Bolivia territorial loss-en.svg|thumb|Bolivia's territorial losses (1867–1938)]]
बोलीविया, प्राचीन [[इंका सभ्यता|इंका साम्राज्य]] का हिस्सा था। 1524 में, स्पेनिश विजय की शुरूआत हुई और वर्ष 1533 तक यह पूरा हो चुका था। इसे तब "ऊपरी पेरू" कहा जाता था और [[लीमा]] के वाइसराय के अधिकार में था। 16वीं शताब्दी में स्पेनियों ने इंकस को पराजित करने के बाद बोलीविया की मुख्य रूप से इण्डियन आबादी (मुल निवासी) को कम कर दिया था। 16वीं शताब्दी के उत्तरार्ध में बोलीवियाई चांदी, [[स्पैनिश साम्राज्य]] के लिए राजस्व का एक महत्वपूर्ण स्रोत था।<ref>{{cite web|url=http://encarta.msn.com/encyclopedia_761575057_13/Spain.html |title=Conquest in the Americas |publisher=MSN Encarta |date=28 October 2009 |accessdate=14 July 2013 |deadurl=yes |archiveurl=https://web.archive.org/web/20091028035130/http://encarta.msn.com/encyclopedia_761575057_13/Spain.html |archivedate=28 October 2009 }}</ref>स्पेनिश के पूर्व-उपनिवैशिक मसौदा प्रणाली "मीता" के अन्तर्गत श्रम बल के लिये वहाँ के मूल निवासियों का क्रुरता के साथ उपयोग किया जाता था।<ref>{{cite web|url=http://countrystudies.us/bolivia/29.htm |title=Bolivia – Ethnic Groups |publisher=Countrystudies.us |accessdate=30 August 2010}}</ref>
 
देश ने 1825 में अपनी स्वतंत्रता हासिल की और प्रसिद्ध मुक्तिदाता [[साइमन बोलीवार]] के नाम पर इसका नाम रखा गया। बोलिविया ने आंतरिक संघर्ष में तीन पड़ोसी देशों के हाथ अपने क्षेत्र के कई हिस्से खोने पड़े है।<ref>{{cite book |last=McGurn Centellas |first=Katherine |date=June 2008 |title=For Love of Land and Laboratory: Nation-building and Bioscience in Bolivia |url=https://books.google.com/books?id=VXD4SlJQYDgC&pg=PA97|location=Chicago |isbn=9780549565697 }}</ref> [[प्रशांत महासागर का युद्ध|प्रशांत के युद्ध]] (1879-1884) के बाद कई हजार वर्ग मील और प्रशांत सागर का इसका तट [[चिली]] द्वारा कब्जा कर लिया गया था। 1903 में, बोलीविया के एकड़ प्रांत का एक टुकड़ा, जो रबर से समृद्ध था, [[ब्राजील]] को सौंप दिया गया; और 1938 में, [[पैराग्वे]] के हाथों [[चाको युद्ध]] (1932-1935) को खोने के बाद, बोलीविया को ग्रैन चाको के लगभग 100,000 वर्ग मील भूमि का दावा छोड़ना पड़ा। यहाँ से देश में राजनीतिक अस्थिरता की शुरूआत होने लगी।<ref>{{cite book |author=Osborne, Harold |title=Bolivia: A Land Divided |publisher=London: Royal Institute of International Affairs |year=1954}}</ref><ref>{{cite web |author=History World |title=History of Bolivia |publisher=National Grid for Learning |year=2004 |url=http://www.historyworld.net/wrldhis/PlainTextHistories.asp?historyid=ac11}}</ref><ref>{{cite news |author=Forero, Juan |title=History Helps Explain Bolivia's New Boldness |work=New York Times |url=https://www.nytimes.com/2006/05/07/weekinreview/07forero.html |date=7 May 2006 |accessdate=26 April 2010 }} [http://www.geography.wisc.edu/archiveNews/2006/pdf/NYT-History%20Geography%20Bolivia.pdf (PDF)] {{webarchive|url=https://web.archive.org/web/20090324233328/http://www.geography.wisc.edu/archiveNews/2006/pdf/NYT-History%20Geography%20Bolivia.pdf |date=24 March 2009 }}, University of Wisconsin–Madison, Department of Geography</ref>
 
राष्ट्रवादी क्रांतिकारी आंदोलन (एमएनआर) व्यापक रूप से बड़ी पार्टी के रूप में उभरा। 1951 के राष्ट्रपति चुनावों में अपनी जीत के बाद भी सत्ता देने के इंकार के बाद, एमएनआर ने 1952 में एक सफल क्रांति का नेतृत्व किया। राष्ट्रपति [[विक्टर पाज़ एस्टेंसोरो]] के तहत, एमएनआर के पास मजबूत लोकप्रिय जनाधार होने के कारण, उन्होंने राजनीतिक मंच में कई सार्वभौमिक मताधिकार पेश किये और ग्रामीण शिक्षा को बढ़ावा देने, और देश की सबसे बड़ी [[टिन]] की खदानों का राष्ट्रीयकरण करने जैसे कई सुधार किये।
 
12 वर्षों के अशांत शासन के बाद एमएनआर विभाजित हो गया। 1964 में, एक सैन्य जुन्टा ने राष्ट्रपति एस्टेंसोरो के तीसरे कार्यकाल का तख्ता पलट दिया। 1965 में, एक [[गुरिल्ला युद्ध|गुरिल्ला आंदोलन]] [[क्यूबा]] से निकलकर और [[चे ग्वेरा|मेजर अर्नेस्टो "चे" ग्वेरा]] के नेतृत्व में क्रांतिकारी युद्ध शुरू हो गया। अमेरिकी सैन्य सलाहकारों की सहायता से, बोलीवियाई सेना ने 8 अक्टूबर 1967 को ग्वेरा को पकड़ कर मार दिया और इसके साथ ही यह गुरिल्ला आंदोलन भी खत्म हो गया।<ref name="BBC-2007-10-8">{{Cite journal| url= http://news.bbc.co.uk/2/hi/americas/7027619.stm| title= CIA man recounts Che Guevara's death| last= Grant |first=Will| date= 8 October 2007| journal= BBC News| accessdate = 2 January 2010}}</ref><ref name="XXXI-172">{{Cite journal |title = Statements by Ernesto "Che" Guevara Prior to His Execution in Bolivia |url=https://www.state.gov/r/pa/ho/frus/johnsonlb/xxxi/36271.htm |archiveurl=https://web.archive.org/web/20090206144244/http://www.state.gov/r/pa/ho/frus/johnsonlb/xxxi/36271.htm |archivedate=6 February 2009 |journal=Foreign Relations of the United States, Volume XXXI, South and Central America; Mexico |id=XXXI: 172 |date=13 October 1967 |publisher=[[United States Department of State]]}}</ref>
 
जून 1993 में, [[मुक्त बाजार]] के समर्थक गोंजालो सांचेज़ डी लोज़ाडो राष्ट्रपति चुने गए। जिसे पूर्व तानाशाह से लोकतांत्रिक बने जनरल ह्यूगो बेनज़र ने प्रतिस्थापित किया, वे अगस्त 1997 में दूसरी बार राष्ट्रपति बने। अगस्त 2002 में, लोज़ादा फिर से आर्थिक सुधारों को जारी रखने और नई नौकरियां बनाने जैसे वादों के साथ राष्ट्रपति चुने गये। उन्होंने एक गैस निर्यात परियोजना में हुए घोटालें के बाद जारी दंगों के कुछ महीनों बाद इस्तीफा दे दिया। दिसम्बर 2005 के राष्ट्रपति चुनावों में, बोलिवियाई मुलनिवासी कार्यकर्ता ईवो मोरालेस ऑफ़ द मूवमेंट ऑफ सोशलिज्म (एमएएस) ने देश का पहला स्वदेशी राष्ट्रपति का पद 54% वोट से जीता।
 
==भूगोल==
|
|}
[[चित्र:Bolivia Altiplano 2004.jpg|thumb|right|[[मनुएल रिवेरा-ओर्तीज]]:''Widow Of The Mines'', Potosí, बोलिविया (2004)]]
 
== इन्हें भी देखें ==
* [[बोलिविया के राज्य]]