"आर्यभट" के अवतरणों में अंतर

7 बैट्स् नीकाले गए ,  2 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
}}</ref>
 
==== अपरिमेय (इर्रेशनल) के रूप में [[पाई]]''π'' ====
 
आर्यभट ने [[पाई]] (<math>\pi</math>) के सन्निकटन पर कार्य किया और संभवतः उन्हें इस बात का ज्ञान हो गया था कि पाई इर्रेशनल है। [[आर्यभटीय|आर्यभटीयम्]] (गणितपाद) के दूसरे भाग में वे लिखते हैं:
938

सम्पादन