"गाँव" के अवतरणों में अंतर

23 बैट्स् नीकाले गए ,  1 वर्ष पहले
छो
103.245.196.178 (Talk) के संपादनों को हटाकर Shekhar chouha के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
छो (103.245.196.178 (Talk) के संपादनों को हटाकर Shekhar chouha के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
गाँव.]]में शेखर चौहान मेरे गाँव के मेरे गाँव का लेखन करता हु चिकलोंदा मध्यप्रदेश के इंदौर जिले के देपालपुर तहसील में है ,देपालपुर से दक्षिण में 9 किलोमीटर की दूरी पर है में 2011 की जनगणना के अनुसार कुल 1771 जनसंख्या थी गांव चिकलोंदा में एक तालाब है गांव चिकलोंदा में सबसे कायदा भवन निर्माण के कारीगर एवम बिजली के काम करने वाले कारीगर है गांव 1980 में सक्षम गाव था आस पास के अन्य गांवों के मुकाबले
 
'''hi ra tabiyaan'''
 
'''ग्राम''' या '''गाँव''' छोटी-छोटी मानव बस्तियों को कहते हैं जिनकी जनसंख्या कुछ सौ से लेकर कुछ हजार के बीच होती है। प्राय: गाँवों के लोग [[कृषि]] या कोई अन्य परम्परागत काम करते हैं। गाँवों में घर प्राय: बहुत पास-पास व अव्यवस्थित होते हैं। परम्परागत रूप से गाँवों में शहरों की अपेक्षा कम सुविधाएं (शिक्षा, रोजगार, स्वास्थ्य आदि की) होती हैं।इसे संस्कृत में ग्राम, गुजराती में गाम(गुजराती:ગામ), पंजाबी में पिंड कहते हैं।
24,306

सम्पादन