"शुंग राजवंश" के अवतरणों में अंतर

98 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
छो
2405:205:1282:3525:0:0:105D:60A1 (Talk) के संपादनों को हटाकर 2405:204:A1A0:A50:6C4F:3150:EE5:6946 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
छो (2405:205:1282:3525:0:0:105D:60A1 (Talk) के संपादनों को हटाकर 2405:204:A1A0:A50:6C4F:3150:EE5:6946 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
 
=== महत्व ===
इस वंश के राजाओं ने मगध साम्रज्य के केन्द्रीय भाग की विदेशियों से रक्षा की तथा मध्य भारत में शान्ति और सुव्यव्स्था की स्थापना कर विकेन्द्रीकरण की प्रवृत्ति को कुछ समय तक रोके रखा। मौर्य साम्राज्य के ध्वंसावशेषों पर उन्होंने वैदिक संस्कृति के आदर्शों की प्रतिष्ठा की। यही कारण है कि उसका शासनकाल वैदिक पुनर्जागरण का काल माना जाता है।
 
=== विदर्भ युद्ध ===
9,287

सम्पादन