"लॉर्ड वोल्डेमॉर्ट" के अवतरणों में अंतर

→‎चरित्र चित्रण: जादुई शक्तियाँ तथा कौशल
(→‎चरित्र चित्रण: जादुई शक्तियाँ तथा कौशल)
 
लगभग सभी खलनायकों के समान, वोल्डेमॉर्ट का दम्भ ही उसके पतन का कारण बनता है। वह मृत्यु से अत्यधिक भय था, जिसे उसने शर्मनाक तथा घृणित इंसानी कमजोरी बतायी है। उसके अन्दर अहंकारी होने के कई लक्षण थे। अपने प्राण भक्षियों के सामने वोल्डेमॉर्ट ने यह माना है कि उसने हैरी के माता-पिता पर हमले की बड़ी कीमत चुकाई है, और फिर उसने यह अवलोकन किया कि इसमें क्या गलत हुआ और अन्त में वह ये दोष स्वयं पर लेता है। रोलिंग ने यह लिखा है कि उसका बहुरुपिया उसकी अंतिम यात्रा (ज़नाज़ा) होती।<ref>{{cite web |url=http://www.accio-quote.org/articles/2005/0705-tlc_mugglenet-anelli-2.htm |title="Anelli, Melissa and Emerson Spartz. "The Leaky Cauldron and MuggleNet interview Joanne Kathleen Rowling: Part Two," The Leaky Cauldron |date=16 जुलाई 2005}}</ref> रोलिंग ने वोल्डेमॉर्ट और हैरी में अन्तर बताते हुए कहा है कि हैरी ने मृत्यु को स्वीकार कर लिया था इस कारण से वह अन्त में उसकी तुलना में अधिक ताकतवर होकर उभरा।<ref name="AfterBook7"/>
 
===जादुई शक्तियाँ तथा कौशल===
पूरी शृंखला में रोलिंग ने वोल्डेमॉर्ट को अत्यधिक शक्तिशाली, बुद्धिमान और निर्मम दुष्ट जादूगर बताया है। वह दूसरो का दिमाग अच्छे से पढ़ सकता था और स्वयं के दिमाग में घुसने से दूसरो को रोक भी सकता था। डम्बलडोर के अतिरिक्त वह एक मात्र ऐसा ज्ञात जादूगर था जो चुप चाप छू-मंतर हो जाता था। वोल्डेमॉर्ट एक मात्र जादूगर डम्बल्डोर से डरता था।
 
अन्तिम पुस्तक में वोल्डेमॉर्ट को बिना किसी सहारे के उड़ता दिखाया गया, जिसने भी यह पढ़ा या देखा वह अचंभित रह गया।<ref name="DH4">{{HPref|book=7|chapter=4}}</ref> अपने पूर्वज गॉण्टों की तरह वह भी सर्पों से [[सर्पभाषा]] में बात कर सकता था। उसे यह कौशल अपने पूर्वज सलाज़ार स्लिदरिन से मिला। गॉण्ट परिवार स्वयं की बातचीत में भी इस भाषा का प्रयोग करते थे। यह असाधारण लक्षण उसमे सम्भवतः आनुवंशिक रूप से आ गया हो, क्योंकि गॉण्ट परिवार में यह परम्परा रक्त की शुद्धता बनाये रखने के लिये निभायी जाती थी। जब वोल्डेमॉर्ट नवजात हैरी की हत्या का प्रयास करता है तब उसकी आत्मा के हिस्से के साथ सर्पभाषा में बोलने की कला हैरी में भी चली जाती है। जब वह आत्मा का हिस्सा हैरी में मर जाता है तो हैरी में यह शक्ति खत्म हो जाती है।<ref name=LeakyCauldron20070730>{{cite web|url=http://the-leaky-cauldron.org/2007/7/30/j-k-rowling-web-chat-transcript|title=JK Rowling web chat transcript|date=30 July 2007}}</ref> छठे भाग में पुरानी कहानी देखने के दौरान वोल्डेमॉर्ट ने डम्बलडोर के सामने एक नौकरी के साक्षात्कार के दौरान दावा किया कि उसने "जादू की सीमायें पहले से अधिक बढ़ा दी हैं"।<ref name="{{HP6}}ch20">{{HPref|book=6|chapter=20}}</ref> डम्बल्डोर ने यह भी कहा है कि वोल्डेमॉर्ट की जादुई ज्ञान किसी भी जीवित जादूगर से बहुत अधिक है<ref name="{{HP5}}ch33435">{{HPref|book=5}}{{page needed|date=January 2011}}</ref> और यहाँ तक कि वोल्डेमॉर्ट के पूरी शक्ति के साथ लौटने पर उसके मन्त्रों के सामने डम्बल्डोर के पास सबसे ताकतवर बचाव मंत्र होने का ज्ञान भी अपर्याप्त होगा। डम्बल्डोर ने यह भी कहा है कि वोल्डेमॉर्ट सम्भवतः हॉग्वार्ट्स का सबसे बुद्धिमान विद्यार्थी है।<ref name="{{HP2}}ch17">{{HPref|book=2|chapter=17}}</ref> परन्तु वोल्डेमॉर्ट में यह विलक्षण प्रतिभा तथा कौशल होते हुए भी वह प्यार जैसे शक्तिशाली जादू का सामना करने में अयोग्य था; इस समय कोई शक्तियाँ काम नहीं करती थी। पूरे शृंखला में उसकी यह सबसे बड़ी जादुई अयोग्यता दिखाई गयी है। वोल्डेमॉर्ट प्रारम्भ में अपनी जादुई शक्तियों पर संदेह करने लगता है,<ref name="{{HP6}}ch20" /> मगर अपने शरीर व ताकत वापस पाने के बाद अपने प्राण भक्षियों के सामने वह ये स्वीकार करता है कि उसने लिली पॉटर की उस प्यार की ताकत को अनदेखा कर दिया था जिसने हैरी की जान बचाई।<ref name="{{HP4}}ch33">{{HPref|book=4|chapter=33}}</ref>
 
==सन्दर्भ==
9,286

सम्पादन