"अनुवाद" के अवतरणों में अंतर

30 बैट्स् नीकाले गए ,  2 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
(प्रक्रिया)
{{हहेच लेख|कारण=मूल शोध}}
'''अनुवाद की प्रक्रिया''' का स्पष्टीकरण सैद्धान्तिक दृष्टि से '[[अनुवाद]] कैसे होता है' का निर्वैयक्तिक विवरण ही '''अनुवाद की प्रक्रिया''' है । भाषा व्यवहार की एक विशिष्ट विधा के रूप में अनुवाद प्रक्रिया का स्पष्टीकरण एक ऐसी दृष्टि की अपेक्षा रखता है, जिसमें अनुवाद कार्य सम्बन्धी बहिर्लक्षी परिस्थतियों और भाषा-संरचना एवं भाषा-प्रयोग सम्बन्धी अन्तर्लक्षी स्थितियों का सन्तुलन हो । उपर्युक्त परिस्थितियों से सम्बन्धित सैद्धान्तिक प्रारूपों के सन्दर्भ में यह स्पष्टीकरण प्रस्तुत करना आधुनिक अनुवाद सिद्धान्त का वैशिष्ट्य माना जाता है । तद्नुसारतदनुसार चिन्तन के अंग के रूप में अनुवाद की इकाई, अनुवाद का पाठक, और कला, कौशल (या शिल्प) एवं विज्ञान की दृष्टि से अनुवाद के स्वरूप पर दृष्टिपात के साथ साथ अनुवाद की प्रक्रिया का विशद विवरण किया जाता है।
 
=== अनुवाद की इकाई ===