"अंतरिक्ष संस्थान" के अवतरणों में अंतर

(विस्तार)
 
==अंतरिक्ष संस्थानों से अंतरिक्ष में कचरे की समस्या==
विश्व के कई देशों के अंतरिक्ष संस्थानों की सक्रिय परियोजनाओं के कारण अंतरिक्ष में कचरे की समस्या उत्पन्न हुई है। इस पर भारत से अंतरिक्ष में पहली बार प्रवेश करने वाले विंग कमांडर [[राकेश शर्मा]] का कहना है कि अब समय आ गया है कि अंतरिक्ष में [[उपग्रह]], [[प्रयोगशाला|प्रयोगशालाएँ]] और [[अंतरिक्ष शटल|शटल]] भेजने वाले देश स्थिति की गंभीरता को समझें ताकि अरबों रूपए ख़र्च करके अंतरिक्ष में भेजे जाने वाले मिशन नाकाम न हों और मानवीय विकास में सहायता हो।हो<ref>https://www.bbc.com/hindi/scitech/030301_space_kachra_mk.shtml</ref>।
 
==सन्दर्भ==
{{टिप्पणीसूची}}
 
[[श्रेणी:अंतरिक्ष परियोजना]]
29,663

सम्पादन