"पाशन नियम" के अवतरणों में अंतर

230 बैट्स् जोड़े गए ,  3 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
 
अधिक [[दाब]] तथा अधिक इलेक्ट्रोड-दूरी हो तो भंजन वोल्टता का मान मोटे तौर पर दाब और दूरी के गुणनफल के समानुपाती होता है। कभी-कभी इसी सरल नियम को ही पाशन का नियम कह दिया जाता है।
 
पाशन वक्रों से स्पष्ट है कि किसी विशेष दाब (जो न बहुत कम हो, न बहुत अधिक) पर भंजन वोल्टता न्यूनतम होती है। अतः भंजन वोल्टता अधिक पाने के लिए या तो बहुत कम दाब रखा जाना चाहिए या पर्याप्त रूप से उच्च दाब।
 
==सन्दर्भ==
{{टिप्पणीसूची}}
 
==इन्हें भी देखें==
*[[भंजन वोल्टता]]
*[[गैस विसर्जन]] (गैस डिस्चार्ज)
 
[[श्रेणी:उच्च वोल्टता]]