"ध्यानचंद सिंह" के अवतरणों में अंतर

18 बैट्स् नीकाले गए ,  2 वर्ष पहले
छो
49.35.65.134 (वार्ता) द्वारा किए बदलाव 3965653 को पूर्ववत किया
छो (2402:8100:205B:BEF8:0:0:530E:1C3B (Talk) के संपादनों को हटाकर 49.35.65.134 के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
छो (49.35.65.134 (वार्ता) द्वारा किए बदलाव 3965653 को पूर्ववत किया)
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना
== ओलंपिक खेल ==
=== एम्सटर्डम (1928) ===
1928 में एम्सटर्डम ओलम्पिक खेलों में पहली बार भारतीय टीम ने भाग लिया। एम्स्टर्डम में खेलने से पहले भारjgapjgmtpjgmd.aतीयभारतीय टीम ने इंगलैंड में 11 मैच खेले ajbऔरऔर वहाँ ध्यानचंद को विशेष सफलता प्राप्त हुई। एम्स्टर्डम में भारतीय टीम पहले सभी मुकाबले जीत गई। 17 मई सन्‌ 1928 ई. को [[आस्ट्रिया]] को 6-0, 18 मई को [[बेल्जियम]] को 9-0, 20 मई को [[डेनमार्क]] को 5-0, 22 मई को [[स्विट्जरलैंड]] को 6-0 तथा 26 मई को फाइनल मैच में [[हालैंड]] को 3-0 से हराकर विश्व भर में हॉकी के चैंपियन घोषित किए गए और 29 मई को उन्हें पदक प्रदान किया गया। फाइनल में दो गोल ध्यानचंद ने किए।<ref name="test4">http://www.bharatiyahockey.org/olympics/golden/1928.htm</ref>
 
=== लास एंजिल्स (1932) ===