"मिस्टर इंडिया (1987 फ़िल्म)" के अवतरणों में अंतर

(लेख का विस्तार किया गया)
 
== संक्षेप ==
अरुण वर्मा ([[अनिल कपूर]]) एक अनाथ है, जो अपने एक पुराने घर में दर्जन भर अनाथ बच्चों के साथ रहता है और उनकी देख रेख करता है। खाना बनाने और उनकी देखरेख करने में उसका साथ केलेंडर ([[सतीश कौशिक]]) भी देता है। अरुण अपना सारा राशन का सामान रूपचंद (हरीश पटेल) की किराना दुकान से लाता है, पर वहाँ काफी उधार ले चुका रहता है, और साथ ही उसके घर का कई महीनों का किराया उसके घर के मालिक, माणिकलाल (युनूस परवेज़) को देना भी बचा हुआ है।
 
पैसों की समस्या से परेशान अरुण अपने घर का पहला मंज़िल किराये में देने की सोचता है और अखबार में विज्ञापन दे देता है। उस विज्ञापन को देख कर सीमा सोनी ([[श्रीदेवी]]) रहने आ जाती है। सीमा पेशे से एक पत्रकार है, जो रहने के लिए एक शांत जगह चाहते रहती है। पर किराये के पैसे देने के बाद उसे पता चलता है कि उस घर में ढेर सारे बच्चे रहते हैं, और इस बात पर उसकी अरुण के साथ बहस भी होती है। बाद में वे सभी काफी अच्छे दोस्त बन जाते हैं। अरुण दिल ही दिल में उससे प्यार करने लगता है।
 
== मुख्य कलाकार ==