"शराबी (1984 फ़िल्म)" के अवतरणों में अंतर

1,546 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
+
(जानकारी जोड़ी)
(+)
 
== संगीत ==
इस एल्बम का संगीत [[बप्पी लहरी]] द्वारा रचित है और सर्वश्रेष्ठ संगीत निर्देशक के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार जीतने वाला उनका यह संगीत उनके महानतम कार्यों में से एक माना जाता है। एल्बम के सभी गाने हिट थे। किशोर कुमार ने सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायक के लिए अपना 7वां फिल्मफेयर पुरस्कार जीता। किशोर कुमार इस एल्बम के चार गीतों के लिए उस वर्ष के लिए अकेले ही नामित गायक थे जो कि आज तक एक रिकॉर्ड है। वह गीत थे: "दे दे प्यार दे", "इंतहा हो गई", "लोग कहते हैं", और "मंजिलें अपनी जगह है", आखिरी गीत के लिए उन्होंने अंतत पुरस्कार जीता।
{{Track listing
| extra_column = गायक
| title1 = मुझे नौलखा मंगा दे | extra1 = [[आशा भोंसले]], [[किशोर कुमार]] | length1 = 10:56 | lyrics1 = [[अनजान]]
| all_music = [[बप्पी लहरी]]
| title1title2 = मुझेमंजिलें नौलखाअपनी मंगाजगह देहै | extra1extra2 = [[आशा भोंसले]], [[किशोर कुमार]] | length1length2 = 105:5655 | lyrics2 = अनजान
| title2title3 = मंजिलेंजहाँ अपनीमिल जगहजायें हैचार यार | extra2extra3 = किशोर कुमार, अमिताभ बच्चन | length2length3 = 056:5536 | lyrics3 = अनजान, प्रकाश मेहरा
| title4 = दे दे प्यार दे – पुरुष | extra4 = आशा भोंसले | length4 = 4:29 | lyrics4 = अनजान
| title3 = जहाँ चार यार | extra3 = किशोर कुमार, अमिताभ बच्चन | length3 = 06:36
| title4title5 = दे दे प्यार दे – पुरुष महिला| extra4extra5 = आशाकिशोर भोंसलेकुमार | length4length5 = 045:2948 | lyrics5 = अनजान
| title5title6 = देइंतहा देहो प्यारगई देइंतजार की महिला| extra5extra6 = किशोर कुमार, आशा भोंसले | length5length6 = 058:4853 | lyrics6 = अनजान, प्रकाश मेहरा}}
| title6 = इंतहा हो गई इंतजार की | extra6 = किशोर कुमार, आशा भोंसले | length6 = 08:53}}
 
== नामांकन और पुरस्कार ==