"सावित्रीबाई फुले" के अवतरणों में अंतर

2405:204:8283:CF3F:0:0:3E6:68AC (वार्ता) द्वारा किए बदलाव 4048343 को पूर्ववत किया ?
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
(2405:204:8283:CF3F:0:0:3E6:68AC (वार्ता) द्वारा किए बदलाव 4048343 को पूर्ववत किया ?)
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना
1848 में [[पुणे]] में अपने पति के साथ मिलकर विभिन्न जातियों की नौ छात्राओं के साथ उन्होंने एक विद्यालय की स्थापना की। एक वर्ष में सावित्रीबाई और महात्मा फुले पाँच नये विद्यालय खोलने में सफल हुए। तत्कालीन सरकार ने इन्हे सम्मानित भी किया। एक महिला प्रिंसिपल के लिये सन् 1848 में बालिका विद्यालय चलाना कितना मुश्किल रहा होगा, इसकी कल्पना शायद आज भी नहीं की जा सकती। लड़कियों की शिक्षा पर उस समय सामाजिक पाबंदी थी। सावित्रीबाई फुले उस दौर में न सिर्फ खुद पढ़ीं, बल्कि दूसरी लड़कियों के पढ़ने का भी बंदोबस्त किया, वह भी पुणे जैसे शहर में।
 
== निधन ==
Lovely morning with bestie Arati
10 मार्च 1897 को [[प्लेग]] के कारण सावित्रीबाई फुले का निधन हो गया। प्लेग महामारी में सावित्रीबाई प्लेग के मरीज़ों की सेवा करती थीं। एक प्लेग के छूत से प्रभावित बच्चे की सेवा करने के कारण इनको भी छूत लग गया। और इसी कारण से उनकी मृत्यु हुई।
 
==सावित्रीबाई फुले पर प्रकाशित साहित्य==
103

सम्पादन