"थार मरुस्थल" के अवतरणों में अंतर

936 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
छो
थोड़ा समृद्ध बदलाव जो अपेक्षित था, किया गया है
(य)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
छो (थोड़ा समृद्ध बदलाव जो अपेक्षित था, किया गया है)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
== जलवायु ==
 
थार मरुस्थल अद्भुत है। गर्मियों में यहां की रेत उबलती है। इस मरुभूमि में साठ52 डिग्री सेल्शियस तक तापमान रिकार्ड किया गया है। जबकि सर्दियों में तापमान शून्य से नीचे चला जाता है। जिसका मुख्य कारण हैं यहाँ की बालू रेत जो जल्दी गर्म और जल्दी ठंडी हो जाती है।
गरमियों में मरुस्थल की तेज गर्म हवाएं चलती है जिन्हें "लू" कहते हैं तथा रेत के टीलों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाती हैं और टीलों को नई आकृतियां प्रदान करती हैं। गर्मी ऋतु में यहां पर तेज आंधियां चलती है जो रेत के बड़े-बड़े टीलों को दूसरे स्थानों पर धकेल देती है जिससे यहां मरुस्थलीकरण की समस्या बढ़ती जाती है आंधियों के दिनों में चोरी करने वाले लोग आसानी से अपना काम निपटा लेते हैं क्योंकि उनके पैरों के निशान तेज आंधी के कारण मिट जाते हैं तो लोगों को चोरों की यथासंभव दिशा का पता नहीं चल पाता है कि चोर कौन सी दिशा में गया है
 
== जन-जीवन ==
6

सम्पादन