"जल प्रदूषण" के अवतरणों में अंतर

2 बैट्स् नीकाले गए ,  1 वर्ष पहले
(पाठ ठीक किया)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
===जल शोधन===
जल प्रदूषण पर नियंत्रण हेतु नालों का नियमित रूप से साफ सफाई करना चाहिए। ग्रामीण इलाकों में जल निकास हेतु पक्के नालियों की व्यवस्था नहीं होती है। इस कारण इसका जल कहीं भी अस्त-व्यस्त तरीके से चले जाता है और किसी नदी नहर आदि जैसे स्रोत तक पहुँच जाता है। इस कारण नालियों को ठीक से बनाना और उसे जल के किसी भी स्रोत से दूर रखने आदि का कार्य भी करना चाहिए।
===औद्योगिक अपशिष्ट रोकना===
 
===औद्योगिक अपशिष्ट रोकना===
कई उद्योग वस्तु के निर्माण के बाद शेष बची सामग्री जो किसी भी कार्य में नहीं आती है, उसे नदी आदि स्थानों में डाल देते हैं। कई बार आस पास के इलाकों में भी डालने पर वर्षा के जल के साथ यह नदी या अन्य जल के स्रोतों तक पहुँच जाता है। इस प्रदूषण को रोकने हेतु उद्योगों द्वारा सभी प्रकार के शेष बचे सामग्री को सही ढंग से नष्ट किया जाना चाहिए।
कुछ उद्योग सफलतापूर्वक इस नियम का पालन करते हैं और सभी शेष बचे पदार्थों का या तो पुनः उपयोग करते हैं या उसे सुरक्षित रूप से नष्ट कर देते हैं। इसके अलावा इस तरह के पदार्थों को कम करने हेतु अपने निर्माण विधि में भी परिवर्तन किए हैं। जिससे इस तरह के पदार्थ बहुत कम ही बचते हैं।<ref>{{Cite report |title=Profile of the Fossil Fuel Electric Power Generation Industry |url=http://www.epa.gov/compliance/resources/publications/assistance/sectors/notebooks/fossil.html |author=EPA |year= 1997 }} Document No. EPA/310-R-97-007. p. 24</ref>
बेनामी उपयोगकर्ता