"अमृत": अवतरणों में अंतर

211 बाइट्स जोड़े गए ,  3 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश नहीं है
छो (→‎बाहरी कड़ियाँ: चित्र जोड़ें AWB के साथ)
No edit summary
{{आधार}} {{स्रोतहीन|date=जून 2015}}
[[चित्र:Mohini with amrit.jpg|right|thumb|300px|मोहिनी-रूपी [[विष्णु]], अमृत कलश धारण किए हुए]]
'''अमृत''' का शाब्दिक अर्थ 'अमरता' है। भारतीय ग्रंथों में यह अमरत्व प्रदान करने वाले रसायन (nectar) के अर्थ में प्रयुक्त होता है। यह शब्द सबसे पहले [[ऋग्वेद]] में आया है जहाँ यह [[सोम]] के विभिन्न [[पर्यायवाची|पर्यायों]] में से एक है। व्युत्पत्ति की दृष्टि से यह [[यूनानी]] भाषा के 'अंब्रोसिया' (ambrosia) से संबंधित है तथा समान अर्थ वाला है।
 
* [[पंचामृत]]
* [[सोम]]
* [[मोहिनी]]
* [[समुद्र मन्थन]]
* [[कुम्भ]]
 
== बाहरी कड़ियाँ ==