"अंग्रेज़ी भाषा" के अवतरणों में अंतर

287 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
Filled in 8 bare reference(s) with reFill 2
छो (2405:205:1189:346A:E690:1750:17C5:FD55 (Talk) के संपादनों को हटाकर के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
(Filled in 8 bare reference(s) with reFill 2)
'''अंग्रेज़ी भाषा''' (अंग्रेज़ी: ''English'' हिन्दी उच्चारण: इंग्लिश) [[हिन्द-यूरोपीय भाषा-परिवार]] में आती है और इस दृष्टि से [[हिंदी]], [[उर्दू]], [[फ़ारसी]] आदि के साथ इसका दूर का संबंध बनता है। ये इस परिवार की '''[[जर्मैनी भाषा परिवार|जर्मनिक शाखा]]''' में रखी जाती है। इसे दुनिया की सर्वप्रथम अन्तरराष्ट्रीय भाषा माना जाता है। ये दुनिया के कई देशों की मुख्य राजभाषा है और आज के दौर में कई देशों में (मुख्यतः भूतपूर्व ब्रिटिश उपनिवेशों में) विज्ञान, कम्प्यूटर, साहित्य, राजनीति और उच्च शिक्षा की भी मुख्य भाषा है। अंग्रेज़ी भाषा [[रोमन लिपि]] में लिखी जाती है।
 
यह एक [[पश्चिम जर्मेनिक भाषा]] है जिसकी उत्पत्ति [[एंग्लो-सेक्सन इंग्लैंड]] में हुई थी। [[संयुक्त राज्य अमेरिका]] के 19 वीं शताब्दी के पूर्वार्ध{{Fact|date=June 2009}} और [[ब्रिटिश साम्राज्य]] के 18 वीं, 19 वीं और 20 वीं शताब्दी के सैन्य, वैज्ञानिक, राजनीतिक, आर्थिक और सांस्कृतिक प्रभाव के परिणाम स्वरूप यह दुनिया के कई भागों में ''[[सामान्य भाषा|सामान्य (बोलचाल की) भाषा]]'' बन गई है।<ref>http{{Cite web|url=https://www.bartleby.com/224/1501.html|title=§1. The world-wide expansion of the English language. XV. Changes in the Language since Shakespeare’s Time. Vol. 14. The Victorian Age, Part Two. The Cambridge History of English and American Literature: An Encyclopedia in Eighteen Volumes. 1907–21|website=www.bartleby.com|accessdate=1 मार्च 2019}}</ref> कई [[अंतर्राष्ट्रीय संगठन|अंतरराष्ट्रीय संगठनों]] और [[कोमनवेल्थ ऑफ़ नेशन्स|राष्ट्रमंडल देशों]] में बड़े पैमाने पर इसका इस्तेमाल एक [[द्वितीय भाषा]] और [[आधिकारिक भाषा|अधिकारिक भाषा]] के रूप में होता है।
 
ऐतिहासिक दृष्टि से, अंग्रेजी भाषा की उत्पत्ति ५वीं शताब्दी की शुरुआत से [[ग्रेट ब्रिटेन|इंग्लैंड]] में बसने वाले [[एंग्लो-सेक्सन]] लोगों द्वारा लायी गयी अनेक बोलियों, जिन्हें अब [[पुरानी अंग्रेज़ी|पुरानी अंग्रेजी]] कहा जाता है, से हुई है। [[वाइकिंग]] हमलावरों की [[ओल्ड नार्वेजियन भाषा|प्राचीन नोर्स भाषा]] का अंग्रेजी भाषा पर गहरा प्रभाव पड़ा है। [[इंग्लैंड पर नोर्मन विजय|नॉर्मन विजय]] के बाद पुरानी अंग्रेजी का विकास [[मध्य अंग्रेज़ी|मध्य अंग्रेजी]] के रूप में हुआ, इसके लिए [[नोर्मन भाषा|नॉर्मन]] शब्दावली और वर्तनी के नियमों का भारी मात्र में उपयोग हुआ। वहां से [[आधुनिक अंग्रेजी]] का विकास हुआ और अभी भी इसमें अनेक भाषाओँ से विदेशी शब्दों को अपनाने और साथ ही साथ नए शब्दों को गढ़ने की प्रक्रिया निरंतर जारी है। एक बड़ी मात्र में अंग्रेजी के शब्दों, खासकर तकनीकी शब्दों, का गठन प्राचीन ग्रीक और लैटिन की जड़ों पर आधारित है।
 
== महत्व ==
आधुनिक अंग्रेजी, जिसको कभी - कभी प्रथम वैश्विक [[सामान्य भाषा]] के तौर पर भी वर्णित किया जाता है,<ref name="Global English: gift or curse">{{cite web |title=Global English: gift or curse? |url=http://journals.cambridge.org/action/displayAbstract;jsessionid=92238D4607726060BCBD3DB70C472D0F.tomcat1?fromPage=online&aid=291932 |access-date=2005-04-04}}</ref><ref name="Graddol" />[[संचार]], [[विज्ञान]], [[व्यवसाय|व्यापार]],<ref name="Global English: gift or curse"/> [[विमानन]], मनोरंजन, [[रेडियो]] और [[कूटनीति]] के क्षेत्रों की [[भाषाई साम्राज्यवाद|प्रमुख]] [[अंतरराष्ट्रीय सहायक भाषा|अंतर्राष्ट्रीय भाषा]] है।<ref name="triumph">{{cite web |url=http://www.economist.com/world/europe/displayStory.cfm?Story_ID=883997 |title=The triumph of English |access-date=2007-03-26 |date=2001-12-20 |publisher=The Economist }}</ref><ref name="triumph"/>[[ब्रिटिश द्वीप|ब्रिटिश द्वीपों]] के परे इसके विस्तार का प्रारंभ [[ब्रिटिश साम्राज्य]] के विकास के साथ हुआ और 19 वीं सदी के अंत तक इसकी पहुँच सही मायने में वैश्विक हो चुकी थी।<ref name="auto">{{cite web |url=http://www.ehistling-pub.meotod.de/01_lec06.php |title=Lecture 7: World-Wide English |access-date=2007-03-26|publisher=<sub>E</sub>HistLing }}</ref><ref>{{cite web |urlname=http:"auto"//www.ehistling-pub.meotod.de/01_lec06.php |title=Lecture 7: World-Wide English |access-date=2007-03-26|publisher=<sub>E</sub>HistLing }}</ref> यह संयुक्त राज्य अमेरिका की प्रमुख भाषा है। [[द्वितीय विश्व युद्घ|द्वितीय विश्व युद्ध]] के बाद से अमेरिका की एक वैश्विक [[महाशक्ति]] के रूप में पहचान और उसके बढ़ते आर्थिक और सांस्कृतिक प्रभाव के कारण अंग्रेजी भाषा के प्रसार में महत्त्वपूर्ण गति आयी है।<ref name="Graddol">{{cite web |url=http://www.britishcouncil.org/de/learning-elt-future.pdf |format=PDF|title=The Future of English? |access-date=2007-04-15 |year=1997 |author=[[David Graddol]] |publisher=The British Council }}</ref>
 
अंग्रेजी भाषा का काम चलाऊ ज्ञान अनेक क्षेत्रों, जैसे की चिकित्सा और कंप्यूटर, के लिए एक आवश्यकता बन चुका है; परिणामस्वरूप एक अरब से ज्यादा लोग कम से कम बुनियादी स्तर की अंग्रेजी बोल लेते हैं (देखें: अंग्रेजी भाषा को सीखना और सिखाना). यह [[संयुक्त राष्ट्र]]की छह आधिकारिक भाषाओं में से भी एक है।
 
== इतिहास ==
इंग्लिश एक [[पश्चिम जर्मेनिक भाषा|वेस्ट जर्मेनिक]] भाषा है जिसकी उत्पत्ति [[एंग्लो फ़्रिसियन भाषाओं|एन्ग्लो-फ्रिशियन]] और [[लोअर सक्सोन|लोअर सेक्सन]] बोलियों से हुई है। इन बोलियों को [[ग्रेट ब्रिटेन|ब्रिटेन]] में 5 वीं शताब्दी में जर्मन खानाबदोशों और रोमन सहायक सेनाओं द्वारा वर्त्तमान के उत्तर पश्चिमी जर्मनी और उत्तरी [[नीदरलैंड|नीदरलैण्ड]]{{Fact|date=October 2008}} के विभिन्न भागों से लाया गया था। इन जर्मेनिक जनजातियों में से एक थी [[एन्ग्लेस]]<ref>[18] ^ [http://www.anglik.net/englishlanguagehistory.htm अंग्लिक अंग्रेजी भाषा संसाधन]</ref>, जो संभवतः [[एन्गेल्न|एन्गल्न]] से आये थे। [[बीड]] ने लिखा है कि उनका पूरा देश ही, अपनी पुरानी भूमि को छोड़कर, ब्रिटेन<ref>[{{Cite web|url=http://www.ccel.org/ccel/bede/history.v.i.xiv.html|title=Bede's http://Ecclesiastical History of England - Christian Classics Ethereal Library|website=www.ccel.org/ccel/bede/history.vixiv.html]|accessdate=1 मार्च 2019}}</ref> आ गया था।'इंग्लैंड'(एन्ग्लालैंड) और '''इंग्लिश'' ' नाम इस जनजाति के नाम से ही प्राप्त हुए हैं। <br />[[एंग्लो-सेक्सन|एंग्लो सेक्संस]] ने 449 ई. में [[डेनमार्क]] और [[जूटलैंड]] से आक्रमण करना प्रारंभ किया था,<ref name="auto1">[http{{Cite web|url=https://wwwlrc.la.utexas.edu/cola/centers/lrc/eieol/engol-0-X.html/00|title=Introduction भाषाविज्ञानto अनुसंधानOld केंद्रEnglish|website=lrc.la.utexas.edu|accessdate=1 टेक्सासमार्च विश्वविद्यालय]2019}}</ref><ref>[21] ^ [http://www.ucalgary.ca/applied_history/tutor/firsteuro/invas.html पश्चिमी यूरोप पर जर्मेनिक आक्रमण, कैलगरी विश्वविद्यालय]</ref> उनके आगमन से पहले इंग्लैंड के स्थानीय लोग [[ब्राईथोनिक भाषाएँ|ब्रायोथोनिक]], एक [[केल्टिक भाषाएँ|सेल्टिक]] भाषा, बोलते थे।<ref>[{{Cite web|url=http://www.englishlanguageexpert.com/articles/brief-history.php |title=अंग्रेजी भाषा विशेषज्ञ]|accessdate=1 मार्च 2019}}</ref> हालाँकि बोली में सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण परिवर्तन 1066 के [[नोर्मन आक्रमण|नॉर्मन आक्रमण]] के पश्चात् ही आये, परन्तु भाषा ने अपने नाम को बनाये रखा और नॉर्मन आक्रमण पूर्व की बोली को अब [[पुरानी अंग्रेज़ी|पुरानी अंग्रेजी]] कहा जाता है।<ref>[{{Cite web|url=http://wwwturnitalloff.historyofenglishcom/live-fetish-chat-rooms.net/html|title=Live अंग्रेजीFetish काChat इतिहास,Rooms|website=Live अध्यायBdsm 5Cams|accessdate=1 "पुरानेमार्च से मध्यम अंग्रेजी तक"]2019}}</ref>
 
शुरुआत में [[पुराना अंग्रेज़ी भाषा|पुरानी अंग्रेजी]] विविध बोलियों का एक समूह थी जो की ग्रेट ब्रिटेन के एंग्लो-सेक्सन राज्यों की विविधता को दर्शाती है।<ref>डेविड ग्रदोल, दिक् लीथ और जुआन स्वान, इंग्लिश: हिस्ट्री, डाईवर्सिटी एंड चेंज (न्यू यार्क: रूटलेज, 1996), 101.</ref> इनमें से एक बोली, लेट वेस्ट सेक्सन, अंततः अपना वर्चस्व स्थापित करने में सफल हुई. मूल पुरानी अंग्रेज़ी भाषा फिर आक्रमण की दो लहरों से प्रभावित हुई. पहला जर्मेनिक परिवार के [[उत्तर जर्मेनिक भाषाएँ|उत्तरी जर्मेनिक]] शाखा के भाषा बोलने वालों द्वारा था; उन्होंने 8 वीं और 9 वीं सदी में ब्रिटिश द्वीपों के कुछ हिस्सों को जीतकर उपनिवेश बना दिया. दूसरा 11 वीं सदी के [[नोर्मंस]] थे, जो की पुरानी नॉर्मन भाषा बोलते थे और इसकी [[एंग्लो नोर्मन भाषा|एंग्लो-नॉर्मन]] नमक एक अंग्रेजी किस्म का विकास किया। (सदियाँ बीतने के साथ, इसने अपने विशिष्ट नॉर्मन तत्व को पैरिसियन फ्रेंच और, तत्पश्चात, अंग्रेजी के प्रभाव के कारण खो दिया. अंततः यह [[विधि फ्रेंच|एंग्लो-फ्रेंच]] विशिष्ट बोली में तब्दील हो गयी।) इन दो हमलों के कारण अंग्रेजी कुछ हद तक "मिश्रित" हो गयी (हालाँकि विशुद्ध भाषाई अर्थ में यह कभी भी एक वास्तविक मिश्रित भाषा नहीं रही; मिश्रित भाषाओँ की उत्पत्ति अलग अलग भाषाओँ को बोलने वालों के मिश्रण से होती है। वे लोग आपसी बातचीत के लिए एक मिलीजुली जबान का विकास कर लेते हैं).
=== अंग्रेजी एक वैश्विक भाषा के रूप में ===
{{See also|अंतर्राष्ट्रीय अंग्रेज़ी|विश्व भाषा}}
अंग्रेजी के प्रयोग के इतना विस्तृत होने के कारण इसे अक्सर "[[दुनिया की भाषा|वैश्विक भाषा]]" भी कहा जाता है, आधुनिक युग की ''[[सामान्य भाषा]]'' .<ref name="Graddol" /> हालाँकि अधिकांश देशों में यह अधिकारिक भाषा नहीं है, फिर भी वर्त्तमान में दुनिया भर में अक्सर इसको [[द्वितीय भाषा]] के रूप में सिखाया जाता है। कुछ भाषाविदों (जैसे की डेविड ग्रादोल) का विश्वास है कि यह अब "स्थानीय अंग्रेजी वक्ताओं" की सांस्कृतिक संपत्ति नहीं रह गयी है, बल्कि अपने निरंतर विकास के साथ यह दुनिया भर की संस्कृतियों का अपने में समायोजन कर रही है।<ref name="Graddol" /> अंतर्राष्ट्रीय संधि के द्वारा यह हवाई और समुद्री संचार के लिए आधिकारिक भाषा है।<ref>[{{Cite web|url=http://www.imo.org/Safety/index.asp?topic_id=357 |title=अंतर्राष्ट्रीय समुद्री संगठन]|accessdate=1 मार्च 2019}}</ref> अंग्रेजी अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति सहित [[संयुक्त राष्ट्र]] और कई अन्य [[अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक समिति|अंतरराष्ट्रीय संगठनों]] की एक आधिकारिक भाषा है।
 
एक विदेशी भाषा के रूप में अंग्रेजी का सर्वाधिक अध्ययन यूरोपीय संघ में (89% स्कूली बच्चों द्वारा) होता है, इसके बाद नंबर आता है फ्रेंच (32%), जर्मन (18%), स्पेनिश (8%) और रूसियों का; यूरोपियों में विदेशी भाषाओँ कि उपयोगिता कि धरना का क्रम इस प्रकार है: 68% अंग्रेजी, फ्रेंच 25%, 22% जर्मन और 16% स्पेनिश.<ref name="srv06">[[यूरोबैरोमीटर]] द्वारा [http://ec.europa.eu/education/languages/pdf/doc631_en.pdf 2006 सर्वेक्षण], [http://ec.europa.eu/education/policies/lang/languages/index_en.html यूरोपीय संघ की आधिकारिक भाषाओँ] की वेबसाइट में</ref> अंग्रेजी न बोलने वाले यूरोपीय संघ के देशों में जनसँख्या का एक बड़ा प्रतिशत अंग्रेजी में बातचीत करने का सक्षम होने का दावा करता है, इनका क्रम इस प्रकार है: [[नीदरलैंड]] (87%), [[स्वीडन]] (85%), [[डेनमार्क]] (83%), [[लक्ज़मबर्ग|लक्समबर्ग]] (66%), [[फ़िनलैंड|फिनलैंड]] (60%), [[स्लोवेनिया]] (56%), [[ऑस्ट्रिया]] (53%), [[बेल्जियम]] (52%) और जर्मनी (51%).<ref>[{{Cite web|url=http://ec.europa.eu/public_opinion/archives/ebs/ebs_237.en.pdf |title=यूरोपीय संघ]|accessdate=1 मार्च 2019}}</ref> [[नॉर्वे]] और [[आइसलैंड]] भी-सक्षम अंग्रेजी बोलने वालों का एक बड़ा बहुमत है।{{Fact|date=July 2008}}
 
दुनिया भर के कई देशों में अंग्रेजी में लिखित [[किताब|किताबें]], [[पत्रिका|पत्रिकाएं]] और [[समाचार पत्र|अख़बार]] उपलब्ध होते हैं। [[विज्ञान]] के क्षेत्र में भी अंग्रेजी भाषा का ही प्रयोग सबसे अधिक होता है।<ref name="Graddol" /> 1997 में, [[विज्ञान प्रशस्ति पत्र सूचकांक]] के अनुसार उसके 95% लेख अंग्रेजी में थे, हालाँकि इनमें से केवल आधे ही अंग्रेजी बोलने वाले देशों के लेखकों के थे।
फ्रेंच प्रभाव का एक परिणाम यह है की कुछ हद तक अंग्रेजी की शब्दावली [[जर्मेनिक भाषाएँ|जर्मेनिक]] (उत्तरी जर्मेनिक शाखा के लघु प्रभाव वाले मुख्यतया पश्चिमी जर्मेनिक शब्द) और लैटिन (लैटिन व्युत्पन्न, सीधे तौर पर अथवा नॉर्मन फ्रेंच या अन्य रोमांस भाषाओँ से) शब्दों में विभाजित हो गयी है।
 
अंग्रेजी के 1000 सबसे आम शब्दों में से 83% और 100 सबसे आम में से पूरे 100 जर्मेनिक हैं।<ref>[http://www.utexas.edu/cola/centers/lrc/eieol/engol-0-X.html पुरानी अंग्रेजी ऑनलाइन]<name="auto1"/ref> इसके उलट, विज्ञान, दर्शन, गणित जैसे विषयों के अधिक उन्नत शब्दों में से अधिकांश लैटिन अथवा ग्रीक से आये हैं। खगोल विज्ञान, गणित और रसायन विज्ञान से उल्लेखनीय संख्या में शब्द अरबी से आये हैं।
 
अंग्रेजी शब्दावली के अनुपाती मूलों को प्रदर्शित करने के लिए अनेक आंकडे प्रस्तुत किये गए हैं। अधिकांश भाषाविदों के अनुसार अभी तक इनमे से कोई भी निश्चित नहीं है।