"कोल्हापुर" के अवतरणों में अंतर

88 बैट्स् जोड़े गए ,  10 माह पहले
सम्पादन सारांश रहित
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
1884 में बने इस महल का महाराजा का नया महल भी कहा जाता है। इसका डिजाइन मेजन मंट ने बनाया था। महल के वास्‍तुशिल्‍प पर गुजरात और राजस्‍थान के जैन व हिंदू कला तथा स्‍थानीय रजवाड़ा शैली का प्रभाव है। महल के प्रथम तल पर वर्तमान राजा रहते हैं जबकि भूतल पर वस्‍त्रों, हथियारों, खेलों, आभूषणों आदि का संग्रह प्रदर्शित किया गया है। ब्रिटिश वायसराय और गवर्नर जनरल ऑफ इंडिया की ओर से लिखे गए पत्र भी यहां देखे जा सकते हैं। महल के अंदर ही शाहजी छत्रपति संग्रहालय भी है। यहां पर महाराज शाहजी छत्रपति की बहुत सी वस्‍तुएं प्रदर्शित की गई हैं जैसे बंदूक, ट्रॉफियां और कपड़े आदि।
 
=== पनहलापन्हाला किला ===
कोल्‍हापुर का पनहलापन्हाला किला समुद्र तल से 3127३१२७ फीट की ऊंचाई पर स्थित है। यहां की प्राकृतिक खूबसूरती और शांत अपनी ओर खींचती है। पनहलापन्हाला का नाम मिला पन्‍न्‍नापन्‍न्ना नामक जनजाति के नाम पर पड़ा जो आरंभ में इस किले पर शासन करती थी। इस किले का निर्माण 1052१०५२ में राजा भेज ने करवाया था। बाद में शिलहार और यादव वंशों ने भी यहां राज किया। वीर मराठा शिवाजी ने 1659१६५९ में इस स्‍थान को आदिल शाह के नियंत्रण से मुक्‍त कराया। 1782१७८२ तक पनहलापन्हाला कोल्हापुर की रानी ताराबाई के राज्‍य की राजधानी रहा।
 
=== काशी विश्‍वेश्‍वर मंदिर ===
बेनामी उपयोगकर्ता