"पद्मगुप्त" के अवतरणों में अंतर

26 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
(टिप्पणी)
 
नवसाहसाहसांकचरित पर महाकवि [[कालिदास]] के काव्य का प्रभाव परिलक्षित होता है। कालिदास के अनुकरण पर इस ग्रन्थ की रचना भी [[वैदर्भी शैली]] पर हुई है। महाकाव्य का हिन्दी अनुवाद सहित प्रकाशन 'चौखम्बा-विद्याभवन' से हो चुका है।
==सन्दर्भ==
{{टिप्पणीसूची}}
[[श्रेणी:संस्कृत कवि]]
बेनामी उपयोगकर्ता