"अरहंत": अवतरणों में अंतर

12 बाइट्स हटाए गए ,  3 वर्ष पहले
छो
सम्पादन सारांश नहीं है
No edit summary
छोNo edit summary
[[थेरवाद]] [[बौद्ध धर्म]], में '''अर्हत्अर्हत''' या '''अरहन्त''' ([[संस्कृत भाषा|Sanskrit]]; [[पालि भाषा|Pali]]: अरिहन्त''-'अरहत''' या '''अरहन्त'''; " जो योग्य है"<ref name="EB">[http://www.britannica.com/EBchecked/topic/34073/arhat Encyclopedia Britannica, ''Arhat (Buddhism)'']</ref>)  "पूर्ण मनुष्य"<ref name="EB">[http://www.britannica.com/EBchecked/topic/34073/arhat Encyclopedia Britannica, ''Arhat (Buddhism)'']</ref>{{साँचा:Sfn|Warder|2000|p = 67}} को कहते हैं  जिसने अस्तित्व की यथार्थ प्रकृति का अन्तर्ज्ञान प्राप्त कर लिया हो, और जिसे [[निर्वाण]] की प्राप्त हो चुकी हो।{{साँचा:Sfn|Warder|2000|p = 67}}<ref name="EB">[http://www.britannica.com/EBchecked/topic/34073/arhat Encyclopedia Britannica, ''Arhat (Buddhism)'']</ref> अन्य बौद्ध परम्पराओं में इस शब्द का अब तक 'आत्मज्ञान के रास्ते पर उन्नत लोगों' (जो सम्भवतः पूर्ण [[बुद्धत्व]] की प्राप्ति न कर सके हों) के अर्थ में प्रयोग किया गया है,
।{{साँचा:Sfn|Rhie|Thurman|1991|p = 102}}
{{Infobox Buddhist term
41

सम्पादन