"भारतीय जनसंघ" के अवतरणों में अंतर

812 बैट्स् जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
अखिल भारतीय जनसंघ
(इतिहास इस बात का साक्षी हैं कि 50 से 100 वर्षों के अंतराल में संसार के विभिन्न थानों और देशों में उथल-पुथल होती हैं। जिसके फलस्वरूप उन भू-भागों और देशों में महत्वपूर्ण बदल आते हैं, संसार के मानचित्र से कई राज्य लुप्त हो जाते हैं या खंडित हो जाते हैं और कई नये राज्य अस्तित्व में आ जाते हैं। भारत अथवा हिन्दुस्तान में 1947 में एक ऐसा उथल-पुथल हुआ था। गत कुछ समय से भारत के अन्दर और इस के इर्द-गिर्द के देशों में चलने वाले घटना चक्र से लगता हैं कि भारत उसी प्रकार के एक और उथल-पुथल की ओर बढ़ रहा हैं। इ)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
(अखिल भारतीय जनसंघ)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
हुआ किसान मिला है।]]
[[चित्र:Syama Prasad Mookerjee.jpg|right|thumb|350px|भारतीय जनसंघ के संस्थापक '''डॉ श्यामाप्रसाद मुखर्जी]]
'''अखिल भारतीय जनसंघ''' [[भारत]] का एक पुराना राजनैतिक दल है जिससे १९८० में [[भारतीय जनता पार्टी]] बनी। इसभारतीय दलजनता कापार्टी ने ये प्रचार किया था कि '''अखिल भारतीय जनसंघ''' समाप्त हो गया है। लेकिन ऐसा नहीं था अखिल भारतीय जनसंघ को प्रोफेसर बलराज मधोक जी ने अपना नेतृत्व देकर आज तक संगठन को संंचालित रखा । '''अखिल भारतीय जनसंघ''' की स््थापना श्री आरम्भ [[श्यामा प्रसाद मुखर्जी]] द्वारा [[21 अक्टूबर]] [[1951]] को [[दिल्ली]] में की गयी थी।है। इस पार्टी पहले का चुनाव चिह्न [[दीपक]] था। लेकिन वर्तमान 2019 के संसदीय लोोकसभा चुुनाव में ट्रैक्टर चलाता हुआ किसान आॅवटित हुुआहै। इसने [[भारतीय आम चुनाव, १९५१-१९५२|1952 के संसदीय चुनाव]] में २ सीटें प्राप्त की थी जिसमे डाक्टर मुखर्जी स्वयं भी शामिल थे।
 
प्रधानमंत्री [[इंदिरा गांधी]] द्वारा लागू [[आपातकाल]] (1975-1976) के बाद जनसंघ सहित [[भारत]] के प्रमुख राजनैतिक दलों का विलय कर के एक नए दल [[जनता पार्टी]] का गठन किया गया। आपातकाल से पहले बिहार विधानसभा के भारतीय जनसंघ के विधायक दल के नेता [[लालमुनि चौबे]] ने [[जयप्रकाश नारायण]] के आंदोलन में बिहार विधानसभा से अपना त्यागपत्र दे दिया। जनता पार्टी 1980 में टूट गयी और जनसंघ की विचारधारा के नेताओं नें [[भारतीय जनता पार्टी]] का गठन किया। भारतीय जनता पार्टी [[1998]] से [[2004]] तक [[राष्ट्रीय प्रजातांत्रिक गठबंधन]] (NDA) सरकार की सबसे बड़ी पार्टी रही थी। 2014 के आम चुनाव में इसने अकेले अपने दम पर सरकार बनाने में सफलता प्राप्त की।
बेनामी उपयोगकर्ता