"करोंदा" के अवतरणों में अंतर

4 बैट्स् जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
छो (हिंदुस्थान वासी (Talk) के संपादनों को हटाकर Viral In India के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
'''करोंदा''' एक झाड़ी नुमा पौधा होता है। इसको अंग्रेज़ी में बीटरूट (Beetroot) कहते हैं। इसका वैज्ञानिक नाम'' कैरिसा कैरेंडस'' (''Carissa carandus'') है। करोंदा फलों का उपयोग सब्जी और [[अचार]] बनाने में किया जाता है। यह पौधा [[भारत]] में [[राजस्थान]], [[गुजरात]], [[उत्तर प्रदेश]] और [[हिमालय]] के क्षेत्रों में पाया जाता है। यह [[नेपाल]] और [[अफगानिस्तान]] में भी पाया जाता है।
[[चित्र:Karonda fruit.JPG|thumb|करोंदा फल]]
यह पौधा बीज से [[अगस्त]] या [[सितम्बर]] में १.५ मीटर की दूरी पर लगाया जाता है। कटिंग या बडिंग से भी लगाया जा सकता है। दो सालवर्ष के पौधे में [[फल]] आने लगते हैं। [[फूल]] आना [[मार्च]] के महीने में शुरू होता है और [[जुलाई]] से सितम्बर के बीच फल पक जाता है।
 
== पौधे की विशेषताऐं ==
करौंदे का पेड़ पहाडी देशों में ज्यादा होते हैं कांटे भी होते है। करौंदे का पौधा एक झाड़ की तरह होता है। इसकी ऊंचाई 6 से 7 फीट तक होती है। पत्तों के पास कांटे होते है जो मजबूत होते है। इसके फूलों की गन्ध जूही के समान होते है। इसके फल गोल, छोटे और हरे रंग के होते है। पकने पर यह काले रंग के होते है।
बेनामी उपयोगकर्ता