"मदुरई जिला": अवतरणों में अंतर

874 बाइट्स जोड़े गए ,  3 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश नहीं है
(मदुरै (तमिलनाडु) में मिले 2000 साल पुराने शहर के अवशेष)
No edit summary
{{ज्ञानसन्दूक प्रांत
मदुरई [[भारत]] के [[राज्य]] [[तमिलनाडु]] का एक [[जिला]] है। यह भारत के [[तमिलनाडु]] राज्य का एक जिला है।संगम युग, जो की 400 BCE से २०० AD तक चला, दक्षिण भारत के इतिहास में एक ऐसा युग था जब तमिलनाडु के मदुरै शहर में उस काल के सभी महान कवी और ज्ञानियों ने वहां के पंड्या राजाओं के संरक्षण में एक शैक्षिक संघ का निर्माण कर बहुत से महान तमिल काव्य ग्रंथों की रचना कियें| [http://www.quinki.com/hindi/%E0%A4%AE%E0%A4%A6%E0%A5%81%E0%A4%B0%E0%A5%88-%E0%A4%A4%E0%A4%AE%E0%A4%BF%E0%A4%B2%E0%A4%A8%E0%A4%BE%E0%A4%A1%E0%A5%81-%E0%A4%AE%E0%A5%87%E0%A4%82-%E0%A4%AE%E0%A4%BF%E0%A4%B2%E0%A5%87-2000-%E0%A4%B8/ <nowiki>[1]</nowiki>] इसके दक्षिण तथा दक्षिण-पूर्व में रामनाथपुरम, उत्तर-पूर्व में तिरुच्चिरापल्लि, उत्तर-पश्चिम में कोर्यपुत्तूर जिले तथा पश्चिम में [[केरल]] राज्य स्थित है। इसका क्षेत्रफल ४,९१० वर्ग मील तथा जनसंख्या ३२,११,२२७ (१९६१) है। वार्षिक वर्षा का औसत ४० इंच है जो अधिकतर जाड़ों में होती है। वर्षा के असमान वितरण के कारण कृषि के लिये सिंचाई की आवश्यकता पड़ती है। [[पैरियर नदी]] यहाँ की प्रमुख नदी है। कृषि में [[धान]], [[कपास]], [[मूँगफली]] तथा कुछ मोटे अनाज उगाए जाते हैं।
|province_name = मदुरई ज़िला<br /><small>Madurai district</small><br /><small>மதுரை மாவட்டம்</small>
|loc_map = India Tamil Nadu districts Madurai.svg
|capital = [[मदुरई]]
|area = 3,741.73
|pop = 30,38,252
|pop_year = 2011
|pop_density = 823
|sub_province_title = तालुक
|sub_provinces = 13
|languages= [[तमिल भाषा|तमिल]]
}}
'''मदुरई ज़िला''' [[भारत]] के [[तमिल नाडु]] राज्य का एक ज़िला है। ज़िले का मुख्यालय [[मदुरई]] है।<ref>"[https://books.google.com/books?id=psw6DwAAQBAJ Lonely Planet South India & Kerala]," Isabella Noble et al, Lonely Planet, 2017, ISBN 9781787012394</ref><ref>"[https://books.google.com/books?id=_W0iP0ZWQPgC Tamil Nadu, Human Development Report]," Tamil Nadu Government, Berghahn Books, 2003, ISBN 9788187358145</ref>
 
== विवरण ==
मदुरई अपने प्राचीन [[हिंदू]] मंदिरों के लिये विश्व प्रसिद्ध है।
मदुरई [[भारत]]संगम के [[राज्ययुग]] [[तमिलनाडु]] का एक [[जिला]] है। यह भारत के [[तमिलनाडु]] राज्य का एक जिला है।संगम युग, जो की 400 BCEईसापूर्व से २००200 ADईसवी तक चला, दक्षिण भारत के इतिहास में एक ऐसा युगकाल था जब तमिलनाडु के मदुरैमदुरई शहर में उस कालसमय के सभी महान कवी और ज्ञानियों ने वहां के पंड्या[[पांड्य]] राजाओं के संरक्षण में एक शैक्षिक संघ का निर्माण कर बहुत से महान तमिल काव्य ग्रंथों की रचना कियें| करी।<ref>[http://www.quinki.com/hindi/%E0%A4%AE%E0%A4%A6%E0%A5%81%E0%A4%B0%E0%A5%88-%E0%A4%A4%E0%A4%AE%E0%A4%BF%E0%A4%B2%E0%A4%A8%E0%A4%BE%E0%A4%A1%E0%A5%81-%E0%A4%AE%E0%A5%87%E0%A4%82-%E0%A4%AE%E0%A4%BF%E0%A4%B2%E0%A5%87-2000-%E0%A4%B8/ <nowiki>[1]</nowikiref>] इसके दक्षिण तथा दक्षिण-पूर्व में रामनाथपुरम, उत्तर-पूर्व में तिरुच्चिरापल्लि, उत्तर-पश्चिम में कोर्यपुत्तूर जिले तथा पश्चिम में [[केरल]] राज्य स्थित है। इसका क्षेत्रफल ४,९१० वर्ग मील तथा जनसंख्या ३२,११,२२७ (१९६१) है। वार्षिक वर्षा का औसत ४० इंच है जो अधिकतर जाड़ों में होती है। वर्षा के असमान वितरण के कारण कृषि के लिये सिंचाई की आवश्यकता पड़ती है। [[पैरियर नदी]] यहाँ की प्रमुख नदी है। कृषि में [[धान]], [[कपास]], [[मूँगफली]] तथा कुछ मोटे अनाज उगाए जाते हैं। मदुरई अपने प्राचीन [[हिंदू]] मंदिरों के लिये विश्व प्रसिद्ध है।
 
== इन्हें भी देखें ==
[[क्षेत्रफल]] - वर्ग कि.मी.
* [[मदुरई]]
* [[तमिल नाडु]]
{{* तमिलनाडु[[तमिल नाडु के जिले}}]]
 
== सन्दर्भ ==
[[जनसंख्या]] - २५,७८,२०१ (२००१ [[जनगणना]])
{{टिप्पणीसूची}}
{{ तमिलनाडु के जिले}}
 
{{-}}
{{तमिल नाडु के जिले}}
{{भारत के मिलियन+ नगर}}
 
[[श्रेणी:तमिलनाडु के जिले]]
[[श्रेणी:मदुरई ज़िला|*]]