मुख्य मेनू खोलें

बदलाव

49 बैट्स् नीकाले गए, 3 माह पहले
==अध्याय २२==
आपराधिक अभित्रास, अपमान एवं रिष्टिकरण
* '''धारा ५०३503''' आपराधिक अभित्रास।
* '''धारा ५०४504''' शांति भंग करने के इरादे से जानबूझकर अपमान करना
* '''धारा ५०५505''' लोक रिष्टिकारक वक्तव्य।
* '''धारा ५०६506''' धमकाना
* '''धारा ५०७507''' अनाम संसूचना द्वारा आपराधिक अभित्रास।
* '''धारा ५०८508''' व्यक्ति को यह विश्वास करने के लिए उत्प्रेरित करके कि वह दैवी अप्रसाद का भाजन होगा कराया गया कार्य
* '''धारा ५०९509''' शब्द, अंगविक्षेप या कार्य जो किसी स्त्री की लज्जा का अनादर करने के लिए आशयित है
* '''धारा ५१०510''' शराबी व्यक्ति द्वारा लोक स्थान में दुराचार।
 
==अध्याय २३==
;अपराध करने के प्रयत्न
बेनामी उपयोगकर्ता