"नरसिंह" के अवतरणों में अंतर

40 बैट्स् नीकाले गए ,  1 वर्ष पहले
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
नृसिंहं भीषणं भद्रं मृत्युमृत्युं नमाम्यहम् ॥
<br />
(हे क्रुद्ध एवं शूर-वीर महाविष्णु, तुम्हारीआपकी ज्वाला एवं ताप चतुर्दिक फैली हुई है। हे नरसिंहदेवनृसिंहदेव, तुम्हाराआपका चेहरा सर्वव्यापी है, तुमआप मृत्यु के भी यम हो और मैं तुम्हारेआपके  समक्षासमक्ष आत्मसमर्पण करता हूँ।)
</blockquote>
 
बेनामी उपयोगकर्ता