"स्कन्दगुप्त" के अवतरणों में अंतर

138 बैट्स् नीकाले गए ,  9 माह पहले
छो
223.225.46.21 (Talk) के संपादनों को हटाकर PRITAM PREM के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
(वर्तनी की अशुद्धियों का शुद्धिकरण.)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
छो (223.225.46.21 (Talk) के संपादनों को हटाकर PRITAM PREM के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
{{गुप्त साम्राज्य ज्ञानसन्दूक}}
[[चित्र:Skanda1b.jpg|right|thumb|300px|स्कन्दगुप्तकालीन मुद्रा जिस पर स्कन्दगुप्त का चित्र अंकित है।|कड़ी=Special:FilePath/Skanda1b.jpg]]
'''स्कन्दगुप्त''' प्राचीन [[भारत]] में तीसरी से पाँचवीं सदी तक शासन करने वाले [[गुप्त राजवंश]] के आठवें राजा थे। इनकी राजधानी [[पाटलिपुत्र]] थी जो वर्तमान समय में [[पटना]] के रूप में [[बिहार]] की राजधानी है।
 
 
== धर्म ==
स्कन्दगुप्त स्वयंवेस्नोधर्मावलम्बि <nowiki>[[वैष्णव]]</nowiki> थेथा परन्तु अपने पूर्वजोंपुर्वजो हीकि कीभाती भांति उन्होंनेउसने भी अन्यधार्मिक सम्प्रदायोंझेत्र के प्रति उदारता तथाउदारतातथा सहिष्णुतासहिविस्नुता कीकि नीति का पालन किया।किया उन्होंनेवह जैनजॅन तीर्थंकरोंतिर्थकरो कीकि पाँचपाच पाषाणपासान प्रतिमाओंप्रतिमाओ का निर्माणनिर्मान करवाया था तथाऔर सूर्यवह सुर्य मन्दिर में दीपदीपक प्रज्जवलनजलाने हेतुके लिये अत्यधिक धनराशि दान में दी थी।
धन दान में दिय था।
 
== साहित्य में स्कंदगुप्त ==