"राजसमंद": अवतरणों में अंतर

806 बाइट्स जोड़े गए ,  3 वर्ष पहले
राजसमन्द की भौगोलिक स्थिति के बारे में जानकारी लिखी है, यहाँ की सुविधाएं अवगत करवाई है और यहाँ के संस्कृति के बारे में कुछ शब्दों का उल्लेख किया है, यहाँ पर पर्यटन स्थल के बारे में जानकारी उपलब्ध कराई है !
छो (बॉट: कोष्टक () की स्थिति सुधारी।)
(राजसमन्द की भौगोलिक स्थिति के बारे में जानकारी लिखी है, यहाँ की सुविधाएं अवगत करवाई है और यहाँ के संस्कृति के बारे में कुछ शब्दों का उल्लेख किया है, यहाँ पर पर्यटन स्थल के बारे में जानकारी उपलब्ध कराई है !)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
(66 किलोमीटर उत्तर पूर्व) राजसमंद झील कंकरोलीकांकरोली तथा राजसमंदराजसमन्द शहरों के बीच स्थित है। इस झील की स्थाकपनास्थापना 17वीं शताब्दीयशताब्दी में मेवाड़ के महाराणा राजसिंह ने की थी। इस झील का निर्माण गोमती, केलवा तथा ताली नदियों पर डैमबांध बनाकर किया गया है। कंकरोलीकांकरोली में झील के तट पर द्वारकाधीश कृष्णाश्री कृष्ण भगवान का मंदिर है। और झील की पाल को नोचौकी पाल के नाम से ही जाना जाता है राजसमन्द झील पर एरिकेशन एक शानदार पर्यटक स्थल बनाया हुआ है, कांकरोली में "द्वारकेश जयते" श्लोक का उच्चारण हर जगह किया जाता है और यहाँ से 15 किलोमीटर स्थित श्रीनाथ जी का मंदिर नाथद्वारा में है यहां जाने के लिए उदयपुर से सीधी बस सेवा है।है, राजसमन्द शहर के राजनगर में नेशनल हाईवे 8 होकर गुजरती है ।
 
== जयसमंद झील ==
2

सम्पादन