मुख्य मेनू खोलें

बदलाव

207 बैट्स् जोड़े गए ,  2 माह पहले
हरियाणा की जलवायु साल भर में गांगेय मैदानों के समान रहती है, यहाँ का मौसम गर्मियों में बहुत गर्म, जबकि सर्दियों में मध्यम ठंडा रहता है। सबसे गर्म महीने मई और जून होते हैं, जब तापमान ४५ डिग्री सेल्सियस (११३ डिग्री फारेनहाइट) तक चला जाता है, और सबसे ठंडे महीने दिसंबर और जनवरी रहते है। कोप्पेन वर्गीकरण के अनुसार राज्य में तीन मौसम क्षेत्र पाए जाते हैं: राज्य के पश्चिमी तथा मध्य हिस्सों की जलवायु अर्द्ध शुष्क है, उत्तरी तथा पूर्वी क्षेत्रों की गर्म भूमध्यसागरीय, जबकि दक्षिणी क्षेत्रों की जलवायु मरुस्थलीय है।<ref>{{cite web |title=Climate Haryana: Temperature, Climograph, Climate table for Haryana - Climate-Data.org |url=https://en.climate-data.org/region/755/ |website=en.climate-data.org |accessdate=19 जुलाई 2018}}</ref>
 
[[करनाल जिला|करनाल]], [[कुरुक्षेत्र जिला|कुरुक्षेत्र]] और [[अम्बाला जिला|अंबाला]] जिलों के कुछ हिस्सों को छोड़कर पूरे राज्य में वर्षा कम और अनियमित है। वर्ष भर में अधिकतम वर्षा २१६ सेमी, जबकि न्यूनतम वर्षा २५ से ३८ सेमी तक रिकॉर्ड की जाती है। जुलाई से सितंबर के महीनों के दौरान लगभग ८० प्रतिशत बारिश होती है, और शेष वर्षा दिसंबर से फरवरी की अवधि के दौरान प्राप्त होती है। हरियाणा में तीन जिले ऐसे हैं जो अपने से ज्यादा ताकतवर हैं 1.रोहतक 2.सोनीपत 3.झज्जर
 
== जनसांख्यिकी ==
बेनामी उपयोगकर्ता