"जय श्री राम" के अवतरणों में अंतर

23 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
(नया पृष्ठ: '''जय श्री राम''' का अर्थ है "भगवान राम की जय हो" या "भगवान राम की विजय",...)
 
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
17 जून 2019 को झारखंड में एक समूह ने 24 वर्षीय के मुस्लिम व्यक्ति, तबरेज़ अंसारी पर चोरी के संदेह में हमला किया। उनके परिवार का आरोप है कि भीड़ ने उन्हें डंडों और तारों से पीटा और उन्हें अगले दिन पुलिस को सौंपने से पहले जय श्री राम और जय हनुमान कहने के लिए मजबूर किया। तबरेज़ अपनी शादी के लिए रमज़ान से कुछ दिन पहले अपने गाँव आए थे। परिवार ने पुलिस पर तबरेज़ की रिपोर्ट को बदलने के लिए अस्पतालों पर दबाव डालने का आरोप भी लगाया, जबकि उसकी बुरी तरह से पिटाई की गई थी।<ref name="FirstPost">{{cite news |title=Tabrez Ansari one of many victims of Jai Shri Ram obsession: Rundown of latest incidents of right-wing mobs targeting minorities |url=https://www.firstpost.com/india/tabrez-ansari-one-of-many-victims-of-jai-shri-ram-obsession-rundown-of-latest-incidents-of-right-wing-mobs-targeting-minorities-6896071.html |accessdate=30 July 2019 |work=First Post |date=28 June 2019 |language=en}}</ref>
 
19 जून 2019 को [[पश्चिम बंगाल]] के शहर [[कोलकाता]] में मदरसा के एक 26 वर्षीय के शिक्षक, हाफिज मुहम्मद शाहरुख हलदार ने दावा किया कि उन्हें एक समूह द्वारा चलती ट्रेन से "जय श्री राम" का जाप नहीं करने पर पीटा गया और चलती ट्रेन से धक्का दे दिया गया था।<ref>{{cite news |title=Bengal madrasa teacher claims pushed off train for not saying Jai Shri Ram |url=https://indianexpress.com/article/india/bengal-man-pushed-off-train-for-not-saying-jai-shri-ram-5797944/ |accessdate=30 July 2019 |work=Indian Express |date=25 June 2019|language=en}}</ref><ref name="FirstPost"/>
 
==सन्दर्भ==
397

सम्पादन