"वशिष्ठ" के अवतरणों में अंतर

9 बैट्स् जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
छो
5.30.108.66 (Talk) के संपादनों को हटाकर Raju Jangid के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
छो (5.30.108.66 (Talk) के संपादनों को हटाकर Raju Jangid के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
'''वशिष्टवसिष्ठ''' वैदिक काल के विख्यात [[ऋषि]] थे। वशिष्टवसिष्ठ एक [[सप्तर्षि]] हैं - यानि के उन सात ऋषियों में से एक जिन्हें ईश्वर द्वारा सत्य का ज्ञान एक साथ हुआ था और जिन्होंने मिलकर वेदों का दर्शन किया (वेदों की रचना की ऐसा कहना अनुचित होगा क्योंकि वेद तो अनादि है)। उनकी पत्नी [[अरुन्धती]] है। वह [[योग-वशिष्टवासिष्ठ]] में [[राम]] के गुरु हैं। वशिष्टवसिष्ठ राजा दशरथ के राजकुल गुरु भी थे।
 
आकाश में चमकते सात तारों के समूह में पंक्ति के एक स्थान पर वशिष्टवशिष्ठ को स्थित माना जाता है।
[[चित्र:Dipper.jpg|thumb|right|500px| दूसरे (दाहिने से) वशिष्टवशिष्ठ और उनकी पत्नी अरुंधती को दिखाया गया है। अंग्रेज़ी में सप्तर्षि तारसमूह को ''बिग डिपर'' या ''ग्रेट बियर'' (बड़ा भालू) कहते हैं और वशिटवशिष्ठ-अरुंधती को ''अल्कोर-मिज़र'' कहते हैं।]]
 
{{ऋषि}}