"अलंकार (साहित्य)" के अवतरणों में अंतर

813 बैट्स् जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
परिभाषा में बदलाव तथा अनेक उदाहरण दिए तथा पहचान भी बताई।
छो (इसे और अच्छा बनाया।)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
(परिभाषा में बदलाव तथा अनेक उदाहरण दिए तथा पहचान भी बताई।)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
 
== ६. [[उत्प्रेक्षा अलंकार]] =
जहाँ उपमेय में उपमान की संभावना हो।हो।जहां उपमेय और उपमान में समानता के कारण रूप में में उपमान की संभावना क्या कल्पना की जाए, वहां उत्प्रेक्षा अलंकार होता है।<br>
उदाहरण:—
*'''<u>उस काल मारे क्रोध के तन कांपने उसका लगा।मानो हवा के जोर से सोता हुआ सागर जगा।</u>'''
*'''<u>सिर फट गया उसका वही मानो अरुण रंग का घड़ा।</u>'''
 
 
पहचान:—उत्प्रेक्षा अलंकार के कुछ वाचक शब्द इस प्रकार हैं— जाने, ज्यों, जनु, मनु, मानो, मनहु आदि।
 
मानो झूम रहे हैं तरू भी मन्द पवन के झौंको से
 
== ७. [[व्यतिरेक अलंकार]] ==
6

सम्पादन