"हाइड्रा" के अवतरणों में अंतर

3 बैट्स् नीकाले गए ,  2 वर्ष पहले
छो
103.206.8.178 (Talk) के संपादनों को हटाकर 2405:204:A001:88E6:66CB:22D3:5D2F:B1B के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
(Jsjjsjs)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
छो (103.206.8.178 (Talk) के संपादनों को हटाकर 2405:204:A001:88E6:66CB:22D3:5D2F:B1B के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
[[चित्र:Hydra001.jpg|thumb|right|जलव्याल]]
'''जलव्याल''' (हाइड्रा) [[निडेरिया संघ]] का जन्तु है। इस जलीय जन्तु का आकार कुछ [[मिलीमीटर]] का होता है तथा इनके अध्ययन के लिए [[सूक्ष्मदर्शी यंत्र]] की आवश्यकता पड़ती है। इनमें [[प्रजनन]] की क्रिया [[अलैंगिक जनन]] से होती है।तथा हाइड्रा में शरीर अनेक टुकड़ो में विभक्त हो जाता है तो प्रत्येक भाग बृद्धि कर के नए जीव में विकसित हो जाता है,यह भी अलैंगिक जनन की एक विधि है जिसे पुनरुद् भवन कहते है।इनके शरीर में अलग से [[मलोत्सर्ग प्रणाली]] नहीं होता है। इसके शरीर में बनने वाला उत्सर्जी पदार्थ [[विसरण]] विधि द्वारा शरीर से बाहर निकाल दिया जाता है jssjjहै।
 
[[श्रेणी:अकशेरुक]]
378

सम्पादन