"हख़ामनी साम्राज्य" के अवतरणों में अंतर

छो
2409:4063:410C:6E32:0:0:1182:F0A1 (Talk) के संपादनों को हटाकर Tulsi Bhagat के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
छो (2409:4063:410C:6E32:0:0:1182:F0A1 (Talk) के संपादनों को हटाकर Tulsi Bhagat के आखिरी अवतरण को पूर्ववत किया)
टैग: प्रत्यापन्न
 
क़ुरोश के बाद उसका पुत्र कम्बोजिया (कैम्बैसिस) शाह बना। उसने मिस्र में अपनी विजय पताका लहरायी और वो अपनी क्रूरता के लिए विख्यात था। उसकी मृत्यु अप्रत्याशित रूप से हुई। कहा जाता है कि फारसी क्षेत्र के केन्द्र में किसी विद्रोह की ख़बर को सुनकर उसने आत्म हत्या कर ली। पश्चिमी ईरान में [[बिसितुन]] के पास मिले एक शिलालेख में लिखा गया है कि गौमाता नाम के एक [[मागी]] ने विद्रोह किया था। उसने अपने को कम्बोजिया का छोटा भाई बताकर फ़ारसी जनता पर पड़े करों के खिलाफ लोगों को भड़काया था। ये बात सही थी कि कुरोश और कम्बोजिया के समय ईरानी जनता ने अत्यधिक लड़ाईया लड़ी थीं और इसका खर्च जनता पर लगाए करों से आता था। पर इसके कुछ ही दिनों बात दारा (या दारयुश, ग्रीक में डैरियस) ने गौमाता को मार दिया और शाह बन बैठा। उसी ने बाद में बिसितुन में उन दिनों के घटनाक्रम का शिलालेख खुदवाया था।
 
== दारा ==
{{main|दारा}}
दारा अजमीढ़ साम्राज्य शासक वंश से किसी दूर के रिश्ते से जुड़ा हुआ था। गद्दी सम्हालते ही दारा ने अपना साम्राज्य पश्चिम की ओर विस्तृत करना आरंभ किया। पर ४९० ईसापूर्व में मैराथन के युद्ध यवनों से मिली पराजय के बाद उसे वापस एशिया मइनर तक सिमट कर रह जाना पड़ा। दारा के शासनकाल में ही पर्सेपोलिस (तख़्त-ए-जमशेद के नाम से भी ज्ञात) का निर्माण करवाया (५१८-५१६ ईसापूर्व)। एक्बताना (हमादान) को भी गृष्म राजधानी के रूप में विकसित किया गया।
 
== यूनान से युद्ध ==
788

सम्पादन