"हॉन्ग कॉन्ग": अवतरणों में अंतर

818 बैट्स् जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
छोNo edit summary
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
{{DISPLAYTITLE:हाँगहॉङ्ग काँगकॉङ्ग}}
{{ज्ञानसन्दूक देश
| native_name = हाँगहॉङ्ग काँगकॉङ्ग विशेष प्रशासनिक क्षेत्र
| conventional_long_name = 香港特別行政區 <br />Hong Kong Special Administrative Region
| common_name = हाँगहॉङ्ग काँगकॉङ्ग
| image_flag = Flag of Hong Kong.svg
| image_coat = Regional Emblem of Hong Kong.svg
| map2_width = 250px
| official_languages = <!-- DO NOT ADD CANTONESE TO THIS, the official languages are stated in the Basic Law as "Chinese and English" -->[[कैण्टोनी भाषा|कैण्टोनी]], [[अंग्रेजी भाषा|अंग्रेजी]]
| demonym = हाँगहॉङ्ग काँगकॉङ्ग रहवासी,<br />हाँगकाँगरहॉङ्गकॉङ्गर
| capital =
| largest_city =
| sovereignty_type = स्थापना
| established_event1 = नानकिंग की संधि
| established_date1 = [[29२९ अगस्त]] [[1842१८४२]]
| established_event2 = जापानी आधिपत्य
| established_date2 = [[25२५ दिसंबर]] [[1941१९४१]] –<br />[[15१५ अगस्त]] [[1945१९४५]]
| established_event3 = संप्रभुता का हस्तांतरण
| established_date3 = [[1 जुलाई]] [[1997१९९७]]
| area_magnitude = 1 E9
| area_km2 = 1,104१०४
| area_rank = 183१८३ वां
| area_sq_mi = 426४२६ <!--Do not remove per WP:MOSNUM-->
| percent_water = 4.6
| population_estimate = 6६९,963६३,100१००
| population_estimate_year = 2007२००७
| population_estimate_rank = 98९८ वां
| population_census = 6६७,708०८,389३८९
| population_census_year = 2001२००१
| population_density = 6,352३५२
| population_densitymi² = 16१६,469४६९ <!--Do not remove per WP:MOSNUM-->
| population_density_rank = 4 था
| GDP_PPP = [[अमेरिकी डॉलर|US$]]292२९२.8 बिलियन
| GDP_PPP_rank = 38३८ वां
| GDP_PPP_year = 2007२००७
| GDP_PPP_per_capita = US$41४१,994९९४
| GDP_PPP_per_capita_rank = 10th१०वां
| HDI_year = 2013२०१३<!-- Please use the year to which the data refers, not the publication year-->
| HDI_change = steady <!-- increase/decrease/steady -->
| HDI = 0.891८९१ <!-- number only -->
| HDI_ref = <ref name="HDI">{{cite web |url=http://hdr.undp.org/sites/default/files/hdr14-summary-en.pdf |title=2014 Human Development Report Summary |date=2014 |accessdate=27 जुलाई 2014 |publisher=संयुक्त राष्ट्र Development Programme | pages=21–25}}</ref>
| HDI_rank = 15वाँ१५वाँ
| currency = [[हाँग काँग डॉलर]]
| currency_code = HKD
| calling_code = 852
}}
'''हाँगहॉङ्ग काँगकॉङ्ग''', आधिकारिक तौर पर हाँगहॉङ्ग काँगकॉङ्ग विशेष प्रशासनिक क्षेत्र, [[जनवादी गणराज्य चीन]] का एक क्षेत्र है, इसके उत्तर में गुआंग्डोंग और पूर्व, पश्चिम और दक्षिण में [[दक्षिण चीन सागर]] मौजूद है। हाँगहॉङ्ग काँगकॉङ्ग एक वैश्विक महानगर और अंतरराष्ट्रीय वित्तीय केंद्र होने के साथ-साथ एक उच्च विकसित पूंजीवादी अर्थव्यवस्था है। "एक देश, दो नीति" के अंतर्गत और बुनियादी कानून के अनुसार, इसे सभी क्षेत्रों में "उच्च स्तर की स्वायत्तता" प्राप्त है, केवल विदेशी मामलों और रक्षा को छोड़कर, जो जनवादी गणराज्य चीन सरकार की जिम्मेदारी है। हाँगहॉङ्ग काँगकॉङ्ग की अपनी मुद्रा, कानून प्रणाली, राजनीतिक व्यवस्था, अप्रवास पर नियंत्रण, सड़क के नियम हैं और मुख्य भूमि चीन से अलग यहां की रोजमर्रा के जीवन से जुड़े विभिन्न पहलु हैं।
 
एक व्यापारिक बंदरगाह के रूप में आबाद होने के बाद हाँगहॉङ्ग काँगकॉङ्ग 1842१८४२ में [[यूनाइटेड किंगडम]] का विशेष उपनिवेश बन गया। 1983१९८३ में इसे एक ब्रिटिश निर्भर क्षेत्र के रूप में पुनर्वर्गीकृत किया गया। 1997१९९७ में जनवादी गणराज्य चीन को संप्रभुता हस्तांतरित कर दी गई। अपने विशाल क्षितिज और गहरे प्राकृतिक बंदरगाह के लिए प्रख्यात, इसकी पहचान एक ऐसे महानगरीय केन्द्र के रूप में बनी जहां के भोजन, सिनेमा, संगीत और परंपराओं में जहां पूर्व में पश्चिम का मिलन होता है। शहर की आबादी 95९५% हान जाति के और अन्य 5% है। 70७० लाख लोगों की आबादी और 1,054०५४ वर्ग किमी (407४०७ वर्ग मील) जमीन के साथ हांगहॉङ्ग कांगकॉङ्ग दुनिया के सबसे घनी आबादी वाले क्षेत्रों में से एक है।
 
== '''इतिहास''' ==
'''हाँगहॉङ्ग काँगकॉङ्ग को [[ब्रिटेन]] से [[चीन]] ने सन् १८४३ मे खरीदा गया था। [[चीन]] ने हाँगहॉङ्ग काँगकॉङ्ग को ब्लैक वार जीतने के बाद लिया था। उसके बाद न्यू कोव लंच और लैंडो ने उसे ९९ वर्ष कि लीस पर छोड़ा था। उसके बाद [[द्वितीय विश्वयुद्ध]] के समय [[जापान]] ने उसे ले लिया था। बाद मे जापानी सैनिक मारे गये थे। [[जापान]] हार गया था व हाँगहॉङ्ग काँगकॉङ्ग मे क्रांति आ गयी थी।'''
 
[[चीन]] में, युद्ध के बाद, कुओमिंटैंग और कम्युनिस्ट हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग प्रवासन के खिलाफ लड़े थे। बाद में कई कम्युनिस्ट सरकार में '''हाँगहॉङ्ग काँगकॉङ्ग''' स्थानांतरित हो गया। 19१९ दिसंबर, 1984१९८४ को [[चीन]] और [[ब्रिटेन]] के बीच हांगकांग ट्रांसफर एक्सचेंज (चीन-ब्रिटिश संयुक्त घोषणा) पर हस्ताक्षर किए गए।
हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग में हिंसक प्रदर्शनों और शांति का दौर खत्म होता नहीं दिख रहा है। विवादित प्रत्यर्पण बिल विरोध से शुरू हुए इन प्रदर्शनों को दो महीने से ज्यादा का वक्त हो का है। अब लोग लोकतंत्र की मांग कर रहे हैं। दो दिन से प्रदर्शनकारियों हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग एयरपोर्ट को अपने कब्जे में ले रखा है। उधर चीन की सरकार प्रदर्शनकारियों की निंदा की है और यह भी कहा है कि वह चुप नहीं ठेगा। हालांकि, यह सब ऐसे ही नहीं हो रहा है। इसमें कई महत्वपूर्ण प्रसंग हैं, जो दशकों पुराने हैं।
 
 
99९९ साल की लीज पर किया गया था चीन के हवाले
दरअसलवास्तव में, हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग अन्य चीनी शहरों से काफी अलग है। 150१५० साल के ब्रिटेन के औपनिवेशिक शासन के बाद हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग को 99९९ साल की लीज पर चीन को सौंप दिया गया। हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग द्वीप पर 1842१८४२ से ब्रिटेन का नियंत्रण रहा। जबकि द्वितीय विश्व युद्ध में जापान का इस पर अपना नियंत्रण था। यह एक व्यस्त व्यापारिक बंदरगाह बन गया और 1950१९५० में विनिर्माण का केंद्र बनने के बाद इसकी अर्थव्यवस्था में बड़ा उछाल आया। चीन में अस्थिरता, गरीबी या उत्पीड़न से भाग रहे लोग इस क्षेत्र की ओर रुख करने लगे।
 
1984१९८४ में हुआ था सौदा
पिछली सदी के आठवें दशक की शुरुआत में जैसे-जैसे 99९९ साल की लीज की समयसीमा पास आने लगी ब्रिटेन और चीन ने हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग के भविष्य पर बातचीत शुरू कर दी। चीन की कम्युनिस्ट सरकार ने तर्क दिया कि हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग को चीनी शासन को वापस कर दिया जाना चाहिए। दोनों पक्षों ने 1984१९८४ में एक सौदा किया कि एक देश, दो प्रणाली के सिद्धांत के तहत हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग को 1997१९९७ में चीन को सौंप दिया जाएगा। इसका मतलब यह था कि चीन का हिस्सा होने के बाद भी हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग 50५० वर्षों तक विदेशी और रक्षा मामलों को छोड़कर स्वायत्तता का आनंद लेगा।
 
 
 
विवाद की जड़
1997१९९७ में जब हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग को चीन के हवाले किया गया था तब बीजिंग ने एक देश-दो व्यवस्था की अवधारणा के तहत कम से कम 2047२०४७ तक लोगों की स्वतंत्रता और अपनी कानूनी व्यवस्था को बनाए रखने की गारंटी दी थी। लेकिन 2014२०१४ में हांगकांग में 79७९ दिनों तक चले अंब्रेला मूवमेंट के बाद लोकतंत्र का समर्थन करने वालों पर चीनी सरकार कार्रवाई करने लगी। विरोध प्रदर्शनों में शामिल लोगों को जेल में डाल दिया गया। आजादी का समर्थन करने वाली एक पार्टी पर प्रतिबंध लगा दिया गया।
 
बीजिंग का कब्जा
हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग का अपना कानून और सीमाएं हैं। साथ ही खुद की विधानसभा भी है। लेकिन हांगकांग में नेता, मुख्य कार्यकारी अधिकारी को 1,200२०० सदस्यीय चुनाव समिति चुनती है। समिति में ज्यादातर बीजिंग समर्थक सदस्य होते हैं। क्षेत्र के विधायी निकाय के सभी 70७० सदस्य, विधान परिषद, सीधे हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग के मतदाताओं द्वारा नहीं चुने जाते हैं। बिना चुनाव चुनी गईं सीटों पर बीजिंग समर्थक सांसदों का कब्जा रहता है।
 
चीनी पहचान से नफरत
हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग में ज्यादातर लोग चीनी नस्ल के हैं। चीन का हिस्सा होने के बावजूद हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग के अधिकांश लोग चीनी के रूप में पहचान नहीं रखना चाहते हैं। खासकर युवा वर्ग। केवल 11११ फीसद खुद को चीनी कहते हैं। जबकि 71७१ फीसद लोग कहते हैं कि वे चीनी नागरिक होने पर गर्व महसूस नहीं करते हैं। यही कारण है कि हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग में हर रोज आजादी के नारे बुलंद हो रहे हैं और प्रदर्शनकारियों ने चीन समर्थित प्रशासन की नाक में दम कर रखा है।
 
== सन्दर्भ ==
{{टिप्पणीसूची|2}}हांगकांगहॉङ्गकॉङ्ग में हिंसक प्रदर्शनों और शांति का दौर खत्म होता नहीं दिख रहा है। विवादित प्रत्यर्पण बिल विरोध से शुरू हुए इन प्रदर्शनों को दो महीने से ज्यादा का वक्त हो का है। अब लोग लोकतंत्र की मांग कर रहे हैं। दो दिन से प्रदर्शनकारियों हांगकांगहॉङ्ग एयरपोर्टकॉङ्ग विमानपत्तन को अपने कब्जे में ले रखा है। उधर चीन की सरकार प्रदर्शनकारियों की निंदा की है और यह भी कहा है कि वह चुप नहीं ठेगा। हालांकि, यह सब ऐसे ही नहीं हो रहा है। इसमें कई महत्वपूर्ण प्रसंग हैं, जो दशकों पुराने हैं।
 
 
99९९ साल की लीज पर किया गया था चीन के हवाले
दरअसलवास्तव में, हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग अन्य चीनी शहरों से काफी अलग है। 150१५० साल के ब्रिटेन के औपनिवेशिक शासन के बाद हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग को 99९९ साल की लीज पर चीन को सौंप दिया गया। हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग द्वीप पर 1842१८४२ से ब्रिटेन का नियंत्रण रहा। जबकि द्वितीय विश्व युद्ध में जापान का इस पर अपना नियंत्रण था। यह एक व्यस्त व्यापारिक बंदरगाह बन गया और 1950१९५० में विनिर्माण का केंद्र बनने के बाद इसकी अर्थव्यवस्था में बड़ा उछाल आया। चीन में अस्थिरता, गरीबी या उत्पीड़न से भाग रहे लोग इस क्षेत्र की ओर रुख करने लगे।
 
1984१९८४ में हुआ था सौदा
पिछली सदी के आठवें दशक की शुरुआत में जैसे-जैसे 99९९ साल की लीज की समयसीमा पास आने लगी ब्रिटेन और चीन ने हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग के भविष्य पर बातचीत शुरू कर दी। चीन की कम्युनिस्ट सरकार ने तर्क दिया कि हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग को चीनी शासन को वापस कर दिया जाना चाहिए। दोनों पक्षों ने 1984१९८४ में एक सौदा किया कि एक देश, दो प्रणाली के सिद्धांत के तहत हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग को 1997१९९७ में चीन को सौंप दिया जाएगा। इसका मतलब यह था कि चीन का हिस्सा होने के बाद भी हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग 50५० वर्षों तक विदेशी और रक्षा मामलों को छोड़कर स्वायत्तता का आनंद लेगा।
 
 
 
विवाद की जड़
1997१९९७ में जब हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग को चीन के हवाले किया गया था तब बीजिंग ने एक देश-दो व्यवस्था की अवधारणा के तहत कम से कम 2047२०४७ तक लोगों की स्वतंत्रता और अपनी कानूनी व्यवस्था को बनाए रखने की गारंटी दी थी। लेकिन 2014२०१४ में हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग में 79७९ दिनों तक चले अंब्रेला मूवमेंट के बाद लोकतंत्र का समर्थन करने वालों पर चीनी सरकार कार्रवाई करने लगी। विरोध प्रदर्शनों में शामिल लोगों को जेल में डाल दिया गया। आजादी का समर्थन करने वाली एक पार्टी पर प्रतिबंध लगा दिया गया।
 
बीजिंग का कब्जा
हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग का अपना कानून और सीमाएं हैं। साथ ही खुद की विधानसभा भी है। लेकिन हांगकांग में नेता, मुख्य कार्यकारी अधिकारी को 1,200२०० सदस्यीय चुनाव समिति चुनती है। समिति में ज्यादातर बीजिंग समर्थक सदस्य होते हैं। क्षेत्र के विधायी निकाय के सभी 70७० सदस्य, विधान परिषद, सीधे हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग के मतदाताओं द्वारा नहीं चुने जाते हैं। बिना चुनाव चुनी गईं सीटों पर बीजिंग समर्थक सांसदों का कब्जा रहता है।
 
चीनी पहचान से नफरत
हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग में ज्यादातरअधिकतर लोग चीनी नस्ल के हैं। चीन का हिस्सा होने के बावजूद हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग के अधिकांश लोग चीनी के रूप में पहचान नहीं रखना चाहते हैं। खासकर युवा वर्ग। केवल 11११ फीसद खुद को चीनी कहते हैं। जबकि 71७१ फीसद लोग कहते हैं कि वे चीनी नागरिक होने पर गर्व महसूस नहीं करते हैं। यही कारण है कि हांगकांगहॉङ्ग कॉङ्ग में हर रोज आजादी के नारे बुलंद हो रहे हैं और प्रदर्शनकारियों ने चीन समर्थित प्रशासन की नाक में दम कर रखा है।
 
==बाहरी कड़ियाँ==
33

सम्पादन