"द्रव": अवतरणों में अंतर

267 बैट्स् नीकाले गए ,  2 वर्ष पहले
Reverted to revision 4005394 by संजीव कुमार: Revert to what seems to be the last good edit, please check. Thanks. (TW)
छो (Undid edits by 2409:4064:98:D9DC:238:3016:C203:A9E8 (talk) to last version by 2409:4063:2118:2BCA:17BC:286A:B3F5:7E1C)
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना SWViewer [1.3]
(Reverted to revision 4005394 by संजीव कुमार: Revert to what seems to be the last good edit, please check. Thanks. (TW))
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना
{{स्रोतहीन|date=अक्टूबर 2018}}
[[चित्र:Milk glass.jpg|right|thumb|300px|द्रव का कोई निश्चित आकार नहीं होता। द्रव जिस पात्र में रखा जाता है उसी का आकार ग्रहण कर लेता है।]]
[[चित्र:Milk glass.jpg|right|thumb|300px|
प्रकृति में सभी रासायनिक पदार्थ साधारणत: [[ठोस]], [[द्रव]] और [[गैस]] तथा [[प्लाज्मा]] - इन चार अवस्थाओं में पाए जाते हैं। द्रव और गैस प्रवाहित हो सकते हैं, किंतु ठोस प्रवाहित नहीं होता। लचीले ठोस पदार्थों में आयतन अथवा आकार को विकृत करने से प्रतिबल उत्पन्न होता है। अल्प विकृतियों के लिए विकृति और [[प्रतिबल]] परस्पर समानुपाती होते हैं। इस गुण के कारण लचीले ठोस एक निश्चित मान तक के बाहरी बलों को सँभालने की क्षमता रखते हैं।
NeerajYadav , kaisarganj, ITE Education program .
द्रव का कोई निश्चित आकार नहीं होता। द्रव जिस पात्र में रखा जाता है उसी का आकार ग्रहण कर लेता है।]]
प्रकृति में सभी रासायनिक पदार्थ साधारणत: [[ठोस]], [[द्रव]] और [[गैस]] तथा [[प्लाज्मा]] - इन चार अवस्थाओं में पाए जाते हैं। द्रव और गैस प्रवाहित हो सकते हैं, किंतु ठोस प्रवाहित नहीं होता। लचीले ठोस पदार्थों में आयतन अथवा आकार को विकृत करने से प्रतिबल उत्पन्न होता है।
हमारे शरीर में द्रव के रूप में पाया जाता है , खून,पानी, लार,आँशु, बलगम पाये जाने वाले
अल्प विकृतियों के लिए विकृति और [[प्रतिबल]] परस्पर समानुपाती होते हैं। इस गुण के कारण लचीले ठोस एक निश्चित मान तक के बाहरी बलों को सँभालने की क्षमता रखते हैं।
 
प्रवाह का गुण होने के कारण द्रवों और गैसों को '''तरल पदार्थ''' (fluid) कहा जाता है। ये पदार्थ कर्तन (shear) बलों को सँभालने में अक्षम होते हैं और गुरुत्वाकर्षण के प्रभाव के कारण प्रवाहित होकर जिस बरतन में रखे रहते हैं, उसी का आकार धारण कर लेते हैं। ठोस और तरल का यांत्रिक भेद बहुत स्पष्ट नहीं है। बहुत से पदार्थ, विशेषत: उच्च कोटि के बहुलक (polymer) के यांत्रिक गुण, श्यान तरल (viscous fluid) और लचीले ठोस के गुणों के मध्यवर्ती होते हैं।
772

सम्पादन