"बर्लिन की दीवार": अवतरणों में अंतर

26 बाइट्स जोड़े गए ,  2 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश नहीं है
No edit summary
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
No edit summary
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
[[चित्र:Berlinwall.jpg|thumb|left|200px|''"Irgendwann fällt jede Mauer" - "अंततः हर दीवार गिरती है"'']]
Jmjmt
'''बर्लिन की दीवार''' ([[जर्मन भाषा|जर्मन]]: ''Berliner Mauer'' ''बर्लीनर माउअर'') [[पश्चिमी बर्लिन]] और [[जर्मन लोकतांत्रिक गणराज्य]] के बीच एक अवरोध थी जिसने 28 साल तक [[बर्लिन]] शहर को [[पूर्वी बर्लिन|पूर्वी]] और पश्चिमी टुकड़ों में विभाजित करके रखा। इसका निर्माण [[13 अगस्त]] [[1961]] को शुरु हुआ और [[9 नवम्बर]], [[1989]] के बाद के सप्ताहों में इसे तोड़ दिया गया। बर्लिन की दीवार [[अन्दरुनी जर्मन सीमा]] का सबसे प्रमुख भाग थी और [[शीत युद्ध]] का प्रमुख प्रतीक थी।
Kwm
Kmt
Jtm
Jm
K
'''बर्लिन की दीवार''' ([[जर्मन भाषा|जर्मन]]: ''B
'''बर्लिन की दीवार''' ([[जर्मन भाषा|जर्मन]]: ''Berlinererliner Mauer'' ''बर्लीनर माउअर'') [[पश्चिमी बर्लिन]] और [[जर्मन लोकतांत्रिक गणराज्य]] के बीच एक अवरोध थी जिसने 28 साल तक [[बर्लिन]] शहर को [[पूर्वी बर्लिन|पूर्वी]] और पश्चिमी टुकड़ों में विभाजित करके रखा। इसका निर्माण [[13 अगस्त]] [[1961]] को शुरु हुआ और [[9 नवम्बर]], [[198919aj89]] के बाद के सप्ताहों में इसे तोड़ दिया गया। बर्लिन की दीवार [[अन्दरुनी जर्मन सीमा]] का सबसे प्रमुख भाग थी और [[शीत युद्ध]] का प्रमुख प्रतीक थी।
[[चित्र:Berlinermauer.jpg|thumb|right|300px|बर्लिन की दीवार का एक भाग। बीच के "मृत्यु क्षेत्र" में बचकर भागने वाले प्रवासी सीमा रक्षकों के लिए सीधा निशाना बनते थे। दीवार के एक ओर [[भित्तिचित्र]] देखे जा सकते हैं। ये केवल पश्चिमी बर्लिन की तरफ बनाए जा सकते थे, पूर्वी बर्लिन की ओर ऐसा करना सख्त मना था। ]]
[[द्वितीय विश्वयुद्ध]] के बाद जब [[जर्मनी]] का विभाजन हो गया, तो सैंकड़ों कारीगर और व्यवसायी प्रतिदिन पूर्वी बर्लिन को छोड़कर पश्चिमी बर्लिन जाने लगे। बहुत से लोग राजनैतिक कारणों से भी [[समाजवादी]] पूर्वी जर्मनी को छोड़कर [[पूँजीवादी]] [[पश्चिमी जर्मनी]] जाने लगे (जर्मन: ''Republikflucht'')। इससे पूर्वी जर्मनी को आर्थिक और राजनैतिक रूप से बहुत हानि होने लगी। बर्लिन दीवार का उद्देश्य इसी प्रवासन को रोकना था। इस दीवार के विचार की कल्पना [[वाल्टर उल्ब्रिख़्त]] के प्रशासन ने की और [[सोवियत संघ|सोवियत]] नेता [[निकिता ख्रुश्चेव]] ने इसे मंजूरी दी।
गुमनाम सदस्य