"सावित्रीबाई फुले" के अवतरणों में अंतर

+
छो (Undid edits by 2409:4043:2192:7323:0:0:27A0:D8AD (talk) to last version by AshokChakra)
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना SWViewer [1.3]
(+)
{{distinguish|सावित्री बाई फुले}}
{{स्रोतहीन|date=दिसम्बर 2017}}
[[File:Savitri Bai Phue Chwok pune.jpg|thumb| सावित्रीबाई फुले चौक, पुणे]]
[[
 
File:Savitri Bai Phue Chwok pune.jpg|thumb| सावित्रीबाई फुले चौक, पुणे]]
 
[[चित्र:MAHATMA fule vada (23).JPG|अंगूठाकार|फुले दंपत्ति]]
 
== विद्यालय की स्थापना ==
1848 में [[पुणे]] में अपने पति के साथ मिलकर विभिन्न जातियों की नौ छात्राओं के साथ उन्होंने एक विद्यालय की स्थापना की। एक वर्ष में सावित्रीबाई और महात्मा फुले पाँच नये विद्यालय खोलने में सफल हुए। तत्कालीन सरकार ने इन्हे सम्मानित भी किया। एक महिला प्रिंसिपल के लिये सन् 1848 में बालिका विद्यालय चलाना कितना मुश्किल रहा होगा, इसकी कल्पना शायद आज भी नहीं की जा सकती। लड़कियों की शिक्षा पर उस समय सामाजिक पाबंदी थी। सावित्रीबाई फुले उस दौर में न सिर्फ खुद पढ़ीं, बल्कि दूसरी लड़कियों के पढ़ने का भी बंदोबस्त किया, वह भी पुणे जैसे शहर में।
1848 में [[पुणे
]] में अपने पति के साथ मिलकर विभिन्न जातियों की नौ छात्राओं के साथ उन्होंने एक विद्यालय की स्थापना की। एक वर्ष में सावित्रीबाई और महात्मा फुले पाँच नये विद्यालय खोलने में सफल हुए। तत्कालीन सरकार ने इन्हे सम्मानित भी किया। एक महिला प्रिंसिपल के लिये सन् 1848 में बालिका विद्यालय चलाना कितना मुश्किल रहा होगा, इसकी कल्पना शायद आज भी नहीं की जा सकती। लड़कियों की शिक्षा पर उस समय सामाजिक पाबंदी थी। सावित्रीबाई फुले उस दौर में न सिर्फ खुद पढ़ीं, बल्कि दूसरी लड़कियों के पढ़ने का भी बंदोबस्त किया, वह भी पुणे जैसे शहर में।
 
== निधन ==
* Savitribai - Journey of a Trailblazer (Publisher : Azim Premji University)
* Shayera.Savitri Bai Phule (in urdu)Author Dr.Nasreen Ramzan Sayyed
 
== गूगल डूडल ==
3 जनवरी 2017 को उनके 186 वे जन्मदिवस पर [[गूगल]]ने उनका [[गूगल डूडल]] प्रसिद्ध कर उन्हें अभिवादन किया है।<ref>[https://g.co/doodle/3vhdfg]</ref>
103

सम्पादन