"श्लेष अलंकार" के अवतरणों में अंतर

612 बैट्स् जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
यहाँ पानी का प्रयोग तीन बार किया गया है, किन्तु दूसरी पंक्ति में प्रयुक्त ''पानी'' शब्द के तीन अर्थ हैं; मोती के सन्दर्भ में पानी का अर्थ ''चमक'' या कान्ति, मनुष्य के सन्दर्भ में पानी का अर्थ ''इज्जत'' (सम्मान), चूने के सन्दर्भ में पानी का अर्थ ''साधारण पानी''(जल) है।
 
 
==इन्हें भी देखें==
'''उदाहरण-३''' '''"'''जो रहीम गति दीप की, कुल कपूत गति सोय |
 
बारे अँधियारो करे, बढ़े अंधेरो होय ||
 
यहाँ बढ़े शब्द का १ बार प्रयोग हुआ है परन्तु उसके दो अर्थ निकल रहे हैं एक अर्थ है बालक के बड़ा होने से और दूसरा अर्थ है दीपक के बुझने से ।
 
* [[अलंकार]]
 
==सन्दर्भ ==
{{टिप्पणीसूची}}
{{रस छन्द अलंकार}}
1

सम्पादन