"चुटकुला" के अवतरणों में अंतर

1,744 बैट्स् नीकाले गए ,  2 वर्ष पहले
Restored revision 4366487 by CptViraj
(→‎बाहरी कड़ियाँ: लोगों की सुविधा के लिए हमने बाहरी कड़ियां में एक जोक्स ऐप को भी सम्मिलित कर दिया है जिससे लोगों को और भी ज्यादा हंसाने वाले चुटकुले पढ़ने में मदद हो सकेगी.|)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन
(Restored revision 4366487 by CptViraj)
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना
किसी घटना की हास्यास्पद प्रस्तुति को '''[https://alarmforstudy.blogspot.com/2019/11/-whatsapp-Hindi-Jokes.html?m=1 चुटकुला]''' या '''परिहास''' कहते हैं। इसे अंग्रेज़ी में 'जोक' ([https://www.gbwhatsapp.in/2019/11/latest-funny-jokes-for-whatsapp-hindi.html?m=1 joke]) कहते हैं और इसे लतीफ़ा भी कहा जाता है। अक्सर कहा जाता है के "लतीफ़े की जान आख़री जुमले (अंतिम वाक्य) में होती है" - अंग्रेज़ी में इस वाक्य को 'पंचलाइन' (punchline) कहते हैं। लतीफ़ा एक छोटी सी [[कहानी]] हो सकता है या एक लघु वाक्यांश या वाक्य के रूप में भी हो सकता है। लतीफे प्राय: मित्रों एवं दर्शकों के [[मनोरंजन ]] के सरल साधन हैं। [https://alarmforstudy.blogspot.com/2019/11/-whatsapp-Hindi-Jokes.html?m=1 चुटकुले] सुनाने का उद्देश्य अट्टहास पैदा करना होता है। किन्तु किन्हीं कारणों से जब ऐसा नहीं हो पाता तो कभी-कभी [https://alarmforstudy.blogspot.com/2019/11/-whatsapp-Hindi-Jokes.html?m=1 चुटकुले] का ही मजाक उड़ा दिया जाता है। [https://alarmforstudy.blogspot.com/2019/11/-whatsapp-Hindi-Jokes.html?m=1 चुटकुलो] से मनुष्य का मनोरंजन भी किया जा सकता है तथा मनुष्य के स्वभाव को कुछ समय के लिये बदला जा सकता हैं।
 
== चुटकुलों पर हंसी क्यों आती है ==
मनोवैज्ञानिकों और साहित्य पर अनुसन्धान करने वालों ने इस प्रश्न पर काफी गहराई से अध्ययन किया है के [https://alarmforstudy.blogspot.com/2019/11/-whatsapp-Hindi-Jokes.html?m=1 चुटकुलों] पर लोग बेबसी से हँसते क्यों हैं। इस विषय को लेकर बहुत से सूक्ष्म प्रश्न सामने आते हैं, जैसे कि ऐसा क्यों है के एक ही [https://alarmforstudy.blogspot.com/2019/11/-whatsapp-Hindi-Jokes.html?m=1 चुटकुला] जब एक आदमी सुनाये तो लोग हँसते हैं लेकिन दूसरा सुनाये तो नहीं हँसते? यह माना जाता है के कई [https://alarmforstudy.blogspot.com/2019/11/-whatsapp-Hindi-Jokes.html?m=1 चुटकुलों] में तनाव के उतार-चढ़ाव का बहुत महत्वपूर्ण योगदान है। जैसे कि एक चुटकुला है कि -
:दो पागल पागलख़ाने से फ़रार हो गए। पुलिस उन्हें ढूँढती-ढूँढती थक गयी, तब कहीं जा कर उनमे से एक हाथ आया।
:पुलिसवाले ने उस से पूछा - "भई, तेरा साथी कहाँ है?"
 
इस लतीफ़े में शुरू में पागलों के भाग उठने से तनाव पैदा होता है। और फिर लगता है के यह तो पागल है ही नहीं, इसलिए तनाव कम होता है लेकिन थोड़ा सा शक़ बना रहता है। और फिर एकदम से तनाव फिर से भड़क उठता है। किसी भी लतीफ़े में यह ज़रूरी है के तनाव का यह उतार-चढ़ाव आकस्मिक लगे, यानि जहां तनाव बढ़ने कि उम्मीद हो वहाँ उल्टा घट जाए और जहां घटने कि संभावना लगे वहां उल्टा बढ़ जाए। अच्छे चुटकुला सुनाने वाले इस तनाव के बहाव को अपने नियंत्रण में रखते हैं। कुछ लतीफ़ों में तनाव का इतना उतार-चढ़ाव नहीं होता लेकिन उनमें भी उम्मीद से कुछ विपरीत होता है जो व्यंग्यपूर्ण ढंग से चौंका जाए।
 
एक ओर चुटकुला
 
रसायन शास्त्र की कक्षा में –
 
टीचर – पानी का फॉर्मूला बताओ ?
 
स्टूडेंट – H2O + MgCl2 + CaSO4 + AlCl3 + NaOH + KOH + HNO3 +HCl + CO2 …..
 
टीचर – ये उत्तर गलत है …
 
स्टूडेंट – मैडम, ये नाले का पानी है … !!!
 
Read more at
 
https://alarmforstudy.blogspot.com/2019/11/-whatsapp-Hindi-Jokes.html?m=1
 
एक और चुटकुला -
 
ये कांग्रेस वाले है न, सत्ता वाले होते है ;
जबतक हारते नहीं, फेयरवेल करते नहीं .
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
<br />
 
== इन्हें भी देखें ==
[[श्रेणी:व्यंग्य]]
[[श्रेणी:पारम्परिक कथाएँ]]
<references />2 [https://alarmforstudy.blogspot.com/2019/11/-whatsapp-Hindi-Jokes.html?m=1 मजेदार चुटकुला] ।
 
https://alarmforstudy.blogspot.com/2019/11/-whatsapp-Hindi-Jokes.html?m=1
 
3. [https://play.google.com/store/apps/details?id=com.deepakdabraldeepakdabral399.Jokes_guruji/2019/12/-Funny-jokes.html?m=1 फनी जॉक्स ऐप] ।