"परमार वंश" के अवतरणों में अंतर

572 बैट्स् नीकाले गए ,  1 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन उन्नत मोबाइल सम्पादन
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन उन्नत मोबाइल सम्पादन
 
विक्रम संवत 1905(1848 ईसा पूर्व)मे राजा कल्याण सिंह परमार के वंशज उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती शहर जेवर में आकर बस गये।
 
[[निमाड़]] में परमारों का अधिकार तेरहवीं शताब्दी तक बना रहा , पश्चात् तोमरों और उसके पीछे चौहानों के हाथ चला गया था। <ref>मध्यप्रदेश का इतिहास.chapter.11.पृ. ७१-७५. स्व. डॉ.हिरालाल. बी. ए. काशी नागरी प्रधानमंत्री प्रचारिणी सभा.१६६६.</ref>
 
== राजा ==
472

सम्पादन