"रिद्धिमान साहा" के अवतरणों में अंतर

10,408 बैट्स् जोड़े गए ,  1 वर्ष पहले
सम्पादन सारांश रहित
{{Infobox cricketer
| name = ऋद्धिमान साहा
| fullname = ऋद्धिमान साहा
| nickname = फ़्लाइंग शाहा
| birth_date = {{Birth date and age|1984|10|24|df=yes}}
| birth_place = [[सिलीगुड़ी]], [[पश्चिम बंगाल]], भारत
| batting = दाएँ हाथ
| bowling =
| role = [[विकेट कीपर]]
| international = true
| country = भारत
| testdebutdate = 9 February
| testdebutyear = 2010
| testdebutagainst = साउथ अफ्रीका
| testcap = 263
| lasttestdate = 22 November
| lasttestyear = 2019
| lasttestagainst = बांग्लादेश
| odidebutdate = 28 November
| odidebutyear = 2010
| odidebutagainst = न्यूजीलैंड
| odicap = 190
| lastodidate = 2 November
| lastodiyear = 2014
| lastodiagainst = श्री लंका
| odishirt = 24
| club1 = [[Bengal cricket team|बंगाल]]
| year1 = 2007–present
| club2 = [[कोलकाता नाइट राइडर्स]]
| year2 = 2008–2010
| club3 = [[चेन्नई सुपर किंग्स]]
| year3 = 2011–2013
| clubnumber3 = 6
| club4 = [[किंग्स इलेवन पंजाब]]
| year4 = 2014–2017
| clubnumber4 = 6
| club5 = [[सनराइजर्स हैदराबाद]]
| year5 = 2018–present
| clubnumber5 = 6
| club6 = [[कालीघाट क्लब]]
| year6 = 2019-present
| columns = 4
| column1 = [[Test cricket|टेस्ट]]
| column2 = [[One Day Internationals|ओडीआई]]
| column3 = [[First-class cricket|FC]]
| column4 = [[List A cricket|LA]]
| matches1 = 37
| matches2 = 9
| matches3 = 111
| matches4 = 100
| runs1 = 1,238
| runs2 = 41
| runs3 = 6,116
| runs4 = 2,693
| bat avg1 = 30.19
| bat avg2 = 13.66
| bat avg3 = 43.07
| bat avg4 = 42.74
| 100s/50s1 = 3/5
| 100s/50s2 = 0/0
| 100s/50s3 = 13/35
| 100s/50s4 = 2/19
| top score1 = 117
| top score2 = 16
| top score3 = 203[[not out|*]]
| top score4 = 116
| hidedeliveries = true
| catches/stumpings1 = 92/11
| catches/stumpings2 = 17/1
| catches/stumpings3 = 299/35
| catches/stumpings4 = 123/15
| source = http://content-www.cricinfo.com/india/content/player/279810.html ESPNcricinfo
| date = 10 December 2019
}}
 
'''ऋद्धिमान साहा''' (अंग्रेजी:Wriddhiman Saha) (जन्म 24 अक्टुबर 1984) एक [[भारतीय]] [[क्रिकेट|क्रिकेट खिलाड़ी]] हैं ये [[बंगाल]] की ओर से रणजी मैच खेलते हैं। ऋद्धिमान साहा दाएँ हाथ के बल्लेबाज तथा [[विकेट कीपर]] है। <ref>http://content-www.cricinfo.com/india/content/player/279810.html</ref>ऋद्धिमान साहा २०१४ से २०१७ तक [[इंडियन प्रीमियर लीग]] में [[किंग्स इलेवन पंजाब]] की ओर से खेले इस दौरान [[२०१४ इंडियन प्रीमियर लीग]] के फाइनल [[मैच]] में शतक लगाकर ऐसा करने वाले पहले [[बल्लेबाज]] बन गए थे। <ref>http://www.espncricinfo.com/india/engine/match/734049.html</ref>
 
रिद्धिमान साहा जो भारत के लिए टेस्ट मैच खेलते हैं और बंगाल के लिए प्रथम श्रेणी के मैच खेलते हैं। वह पहले क्रिकेटर भी हैं जिन्होंने इंडियन प्रीमियर लीग के फाइनल में शतक बनाया। वह इंडियन प्रीमियर लीग में [[सनराइजर्स हैदराबाद]] के लिए खेलते हैं।
 
2017 में, साहा देश में और साथ ही एशिया के बाहर शतक बनाने वाले पहले भारतीय विकेट-कीपर बने। <ref>{{Cite web|url=http://stats.espncricinfo.com/ci/engine/stats/index.html?class=1;filter=advanced;keeper=1;orderby=player;runsmin1=100;runsval1=runs;team=6;template=results;type=batting;view=innings|title=Statsguru|website=espncricinfo|accessdate=11 May 2017}}</ref>
 
साहा ने फरवरी 2010 में विशेषज्ञ बल्लेबाज के रूप में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया। जब उन्हें विकेट-कीपर के रूप में भारतीय टेस्ट टीम में एक स्थायी स्थान मिला, भारतीय टेस्ट टीम में उनके स्थान के बारे में तर्क दिए गए थे, जब इन्होने लंबे समय से सेवा देने वाले एमएस धोनी की जगह ली, जिन्होंने लगभग 5000 से अधिक रन 40 की औसत से बनाए थे।
 
साहा ने कैरेबियाई दौरे पर सेंट लूसिया में अपना पहला टेस्ट शतक बनाया; जब वो बल्लेबाजी करने आये उस अवसर पर, भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 126 रन पर 5 विकट गवां चुके थे। साहा ने अश्विन के साथ मिलकर एक लंबी साझेदारी की। और भारत ने वो टेस्ट जीता उसके बाद से दो और शतक जमाए और उसकी बल्लेबाजी का औसत दोगुना से अधिक हो गया। साहा का दूसरा शतक तब लगा जब भारत बांग्लादेश के खिलाफ खेले
 
साहा ने भारत के विकेट-कीपर के रूप में 23 टेस्ट खेले हैं, और बल्लेबाजी के मोर्चे पर उनकी संख्या भारत के कुछ पिछले विकेट कीपरों के अनुकूल है। रनों के लिहाज से केवल फारूख इंजीनियर (जिसने भी पारी की शुरुआत की), एमएस धोनी और नयन मोंगिया ने उनसे अधिक रन बनाए थे।
 
==घरेलू करियर==
 
साहा ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में कदम रखने से पहले युवा प्रणाली के अंतर्गत अंडर -19 और अंडर -22 टीम के लिए खेलते हुए अपना नाम कमाया। साहा ने अपना एक दिवसीय पहला मैच 2006/07 की रणजी ट्रॉफी प्रतियोगिता में असम के खिलाफ खेला। हालांकि इस खेल के दौरान उन्हें बल्ले से प्रदर्शन करने का मौका नहीं मिला, लेकिन उन्होंने अगले मैच में अपनी पहली पारी में शून्य रन बनाया। जब वह रणजी ट्रॉफी में अपने संक्षिप्त रन के अंत के करीब थे, उन्होंने ईस्ट ज़ोन के लिए देवधर ट्रॉफी में तीन एक दिवसीय मैच खेले।
 
साहा ने 2007–08 में रणजी ट्रॉफी में प्रथम श्रेणी में पदार्पण किया, हैदराबाद के खिलाफ उन्होंने 111 रन बनाए, रणजी पदार्पण पर शतक बनाने वाले वें बंगाल के 15 वें खिलाड़ी बने। साहा ने 2007-08 के सीज़न में दलीप ट्रॉफी के लिए ईस्ट ज़ोन टीम में जगह बनाई।
 
अपने रणजी के पहले मैच पर बंगाल के लिए साहा के शतक के कारण उन्हें 2008 में [[कोलकाता नाइट राइडर्स]] के लिए आईपीएल के साथ एक अनुबंध दिया। साहा ने टूर्नामेंट का एक बड़ा हिस्सा सिर्फ 4 विदेशी खिलाड़ियों के होने के कारण खेला और इस प्रक्रिया में उनकी बल्लेबाजी की प्रतिभा के अलावा स्टंप्स के पीछे उनकी एथलेटिज्म दिखाई दी। ।
 
साहा को भारत ए टीम में लिया गया था जिसने इज़राइल आमंत्रण एकादश के खिलाफ तीन सीमित ओवरों के मैच खेले थे, खिलाड़ियों को उनके इंडियन प्रीमियर लीग में प्रदर्शन के आधार पर लिया गया था। भारत ए ने 3-0 से यह श्रृंखला जीती, साहा ने तीसरे मैच में नाबाद 85 रन बनाए जिसमें भारत ने 235 रनों का पीछा किया। साहा का घरेलू क्रिकेट में सबसे तेज शतक बनाने का रिकॉर्ड भी है। उन्होंने 2018 में 4 चौकों और 14 छक्कों की मदद से 510 की स्ट्राइक रेट से सिर्फ 20 गेंदों पर 102 रन बनाए।
 
 
जनवरी २०१८ में हुई दो दिवसीय नीलामी में इन्हें [[सनराइजर्स हैदराबाद]] ने अपनी टीम में जगह दी है।
1,468

सम्पादन